10

गांव में इस घटना के बाद से सनसनी फ़ैल गयी है। आशंका जताई जा रही है कि बुजुर्ग की हत्या नरबलि देने के मकसद से की गयी है। स्थानीय लोगों के मुताबिक गांव के ही एक युवक ने बुजुर्ग का शव काटकर मां काली को चढ़ा दिया है। घटना के खबर मिलते ही गांव में पुलिस बल पहुंच गया है।

जानकारी के मुतबिक कोतवाली क्षेत्र के चकरौत गांव में एक 60 साल के बुजुर्ग बाबूराम कोरी की गर्दन काटकर हत्या कर दी गई है। इस जघन्य वारदात को अंजाम देने वाला आरोपी उदय शुक्ला उर्फ उदई मौके से फरार हो गया है। गांव में चर्चा है कि हत्या के आरोपी उदय शुक्ल के परिवार में उसकी मां समेत कुल सात भाई हैं लेकिन किसी की भी शादी नहीं हुई है। सात में से चार भाई मानसिक रूप से विक्षिप्त हैं।

पड़ताल में जुटी पुलिस 

इधर एक चर्चा यह भी है कि उदय ने गांव की सुरक्षा के लिए नरबलि दे दी और गांव के पड़ोस के काली मंदिर में सिर भेंट कर दिया है। फिलहाल पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए उदय शुक्ल को गिरफ्तार कर लिया है। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। कर्नलगंज पुलिस तहरीर के आधार पर कार्रवाई की बात कर रही है और अंधविश्वास और रंजिश की पड़ताल में जुट गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here