एक पवित्र धातु माना जाता हैं. तांबे से बनी वस्तुओं का उपयोग सदियों से भगवान की पूजा पाठ में होता आ रहा हैं. भगवान की घंटी, लौटा, पूजा थाली, दीपक, सिंहासन ये सभी चीजें तांबे की बनाई जाती हैं. ऐसे में हम समझ सकते हैं कि तांबे का ताल्लुक भगवान और हमारे धर्म से कई सालों पुराना हैं. यहाँ तक कि भगवान की प्राचीन मूर्तियों और प्रतिमाओं में भी हम उनके हाथ में तांबे का पात्र देख सकते हैं.

यही कारण हैं कि किस्मत को चमकाने के लिए हम तांबे के बने सिक्के का इस्तेमाल करेंगे. तांबे का सिक्का आपकी राशि में विराजमान बुरे ग्रहों के प्रभावों को ख़त्म करने में मदद करता हैं. साथ ही ये आपकी किस्मत के सितारों को बुलंद करता हैं. इसे हमेशा अपने साथ रखने से आपकी किस्मत आप पर सदा मेहरबान रहेगी.

ऐसे धारण करे तांबे का सिक्का

चलिए अब जानते हैं कि आपको इस तांबे के सिक्के का

उपयोग किस प्रकार से करना हैं. सबसे पहले आप बाजार से एक तांबा की धातु से बना सिक्का ले आए. सिक्का ना मिले तो तांबे का ही गोल आकृति में बना कोई पेंडल भी चलेगा. बस इतना ध्यान रहे कि ये सिक्का कहीं से भी खंडित ना हो. यानी की ये पूरी तरह से साबुत हो और टुटा फूटा या दरार वाला ना हो. वरना इसका प्रभाव कम हो जाएगा.

अब काले रंग का एक धागा ले और उसके अन्दर

इस तांबे के सिक्के को पिनो दे. इस तरह आपका काले धागे और तांबे का एक लॉकेट बनकर तैयार हो जाएगा. आपको तांबे के इस लॉकेट को सोमवार, मंगलवार या शनिवार के दिन स्नान करने के बाद सुबह सुबह धारण करना हैं. आमतौर पर इसे गले में पहना जाता हैं. लेकिन आप चाहे तो इसे अपनी दाहिनी भुजा पर भी बाँध सकते हैं. बस इस बात का ध्यान रहे कि जिस दिन आप ये सिक्का धारण करे उस दिन नॉनवेज ना खाए और कोई नशा भी ना करे. इस नियम का पालन आपको सिर्फ सिक्का धारण करने वाले दिन ही करना हैं. इस उपाय के 1 महीने के भीतर ही आपको अपने बुलंद भाग्य का कमाल दिखने लगेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here