प्रदर्शनकारियों से उधर से मोदी ने भी दिया बड़ा झटका :- शाहीन बाग (Shaheen Bagh) में मौजूद प्रदर्शनकारियों (Protestors) ने शनिवार को कहा कि वे केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Union Home Minister Amit Shah) के साथ बातचीत के लिए तैयार हैं और नागरिकता संशोधन कानून (CAA) पर चर्चा करना चाहते हैं. प्रदर्शनकारी, जिनमें ज्यादातर महिलाएं हैं वे दक्षिण-पूर्वी दिल्ली के इस इलाके में दिसंबर के मध्य से ही विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं.

यह बयान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Union Home Minister Amit Shah) के उस बयान के बाद आया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि कोई भी जो नागरिकता संशोधन कानून (CAA) से जुड़े मुद्दों पर बात करना चाहता है वह उनके ऑफिस में आकर उनसे बात कर सकता है.

अमित शाह से मिलने के लिए पहुंचे भी लेकिन उनकी मुलाकात नहीं हो सकी। वहीं दूसरी ओर पीएम मोदी ने वाराणसी में सीएए पर बड़ा बयान देकर प्रदर्शनकारियों को बड़ा झटका दे दिया. शाहीन बाग में विरोध कर रहे प्रदर्शनकारी नागरिकता संशोधन कानून को वापस लेने की मांग कर रहे हैं। उनका कहना है कि ये कानून धार्मिक रूप से भेदभाव करता है।

मोदी रविवार को वाराणसी में थे। उन्होंने चंदौली में प्रतिमा का अनावरण किया और सीएए पर बड़ा बयान दे दिया। मोदी बोले कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाना हो या फिर नागरिकता संशोधन कानून, इन फैसलों का देश को सालों से इंतजार था। इन फैसलों को लेना बड़ा ही मुश्किल काम है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here