खेल दिया बड़ा दांव :- प्रधानमंत्री ने रविवार को कहा कि CAA देश की जरूरत है और इसे वापस नहीं लिया जायेगा। मोदी ने कहा CAA लंबे समय से देश की जरूरत बना हुआ था। हम इसे किसी भी कीमत पर वापस नहीं लेंगे। उन्होने कहा कि उनकी सरकार देश और जनहित में आगे भी कड़े फैसले लेती रहेगी। सरकार की तवज्जो टीयर 3 और टीयर चार के शहरों पर है जहां मूलभूत सुविधाओं का विकास किया जायेगा।

केन्द्रीय बजट में मूलभूत ढांचे के लिये सौ लाख करोड की व्यवस्था की गई है जिसका अधिकांश हिस्सा टीयर 3 और टीयर 4 शहरों में खर्च किया जायेगा। मोदी ने कहा आज हम देश में पांच ट्रिलियन इकोनामी के बारे में बात करते है। इस लक्ष्य को पाने में प्रकृति, धरोहर और पर्यटन महती भूमिका अदा कर सकते है। इसके तहत वाराणसी और अन्य धार्मिक स्थलो को नयी तकनीक से लैस किया जायेगा।

नरेंद्र मोदी ने कहा कि पिछले पांच सालों के दौरान देश में 36 हजार नये स्टार्टअप पंजीकृत किये गये जबकि मुद्रा योजना के अंतर्गत साढे पांच करोड लोगों को कर्ज दिया गया। प्रधानमंत्री ने अपने एक दिवसीय संक्षिप्त दौरे में 48 योजनाओं का शिलान्यास अथवा उदघाटन किया जिसमें बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय (बीएचयू) में 430 बिस्तरों का सुपर स्पेशलिटी सरकारी अस्पताल शामिल है।

उन्होने कहा आयुष्मान योजना का लाभ देश के 50 करोड लोगों को मिला। भारतीय जनता पार्टी का लक्ष्य पंडित दीनदयाल उपाध्याय के आदर्शो पर चलते हुये समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचना है। मोदी ने देश की तीसरी निजी ट्रेन महाकाल एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here