7

साल 2020 पुरी दुनिया के लिए काफी कठिन साल रहा है। इस साल आया कोरो नावा यरस ने दुनिया भर को झकझोर के रख दिया। दुनिया भर के देश बड़े बड़े तथा कठिन फैसले लेने पड़े। जिसको लागु करना भी एक कठिन काम है। खास तौर पर अरब जैसे देश जहां बड़ी संख्या में प्रवासी रहते हैं। बड़ी संख्या में भारत पाकिस्तान तथा बांग्लादेश जैसे कई एशियाई देशों के युवाओं को सऊदी रोजगार के लिए जाना पड़ता है।

युएई सरकार ने बीते 18 नवबर को जारी एक आदेश किया जिसके अनुसार 13 देशो के श्रमिकों को देश में प्रवेश करने लिए अगले आदेशों तक प्रतिबंधित कर दिया है। अल जजीरा के हवाले से खबर है कि युएई ने सुरक्षा चिंताओं को लेकर अस्थाई रूप से अफगान पाकिस्तान और कई अन्य देशों के नाग रिकों को नए वीजा जारी करना बंद कर दिया है। इस सुची में सीरिया और सोमालिया इराक यमन और अफगान जैसे देश शामिल हैं।

जो तुर्की और पाकिस्तान जैसे सऊदी विरोधी गुट के देशों में है। जबकि यहां देखा जाए तो भारत के लिए बहुत बड़ी खुशखबरी है। भारत के प्रवा सीयों के लिए प्रतिबंध नहीं है। जिसके बाद पाकिस्तान के विदेश मंत्री कि भी बयान आया जिसमें कहा गया कि युएई ने अपने नागरिकों और कुछ अन्य देश कै लिए नए वीजा प्रसंस्करण पर रोक लगा दिया है। तथा वो इस बड़े फैसले के पीछे की वजह जानना चाहता है।

पाकिस्तानी मीडिया के हवाले से खबर आई कि इस फैसले की जानकारी पाकिस्तान सरकार को नहीं थी। जिसके बाद पाकि स्तान सरकार ने युएई पर निशाना साधा शुरू कर दिया है। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि पाकिस्तान के श्रमिकों पर रोक लगाने से कोविड 19 खत्म नहीं हो जायेगा। तो वहीं भारत के लिए अच्छी खबर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here