बता दें कि बैंक ने ग्राहकों को जानकारी देते हुए बताया कि ठग ग्राहक को बैंक अधिकारी बनकर पहले फोन करते है और फिर आपके कहते है कि आपका वैलेट या बैंक KYC अवैध और आपका डेबिट कार्ड ब्लॉक हो गया है लेकिन लॉकडाउन में आप अपनी समस्या का हल ऑनलाइन करवा सकते है। इसके लिए आपको एक मोबाइल एप्लीकेशन डाउनलोड करनी होगी। लेकिन जैसे ही आप ये एप्लीकेशन डाउनलोड करते है तो स्कैनर आपके मोबाइल फोन की स्क्रीन को स्केन कर लेता है और फिर उससे आपका फोन वो आराम से कंट्रोल कर सकता है। जिसके बाद आपके मोबाइल के जरीए आपके बैंक की सारी जानकारी हैकर्स के पास होती है।

हैकर्स से ऐसे बचे
हालांकि बैंक ने इन जालसाजों से बचने के तरीके भी बताए है। एसबीआई ने बताया कि ग्राहक कभी भी किसी भी फोन कॉल/ई-मेल/एसएमएस/ वेब लिंक पर बैंक से जुड़ी कोई भी जानकरी न रखें। इसके अलावा इंटरनेट पर पाए जाने वाले नंबर पर बिल्कुल भी विश्वास न करे और न ही अनऑथोराइज्ड मोबाइल ऐप को अपने फोन में डाउनलोड करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here