10

भारत में कोरोना की दूसरी लहर का कहर देखने को मिल रहा है। हालात दिन पर दिन बिगड़ते जा रहे हैं। इस बीच 9 अप्रैल से आईपीएल का आयोजन होना है और ऐसे में खबर आ रही है कि वानखेड़े स्टेडियम के 8 मैदानकर्मी कोरोना संक्रमित हप गए हैं। इस खबर के सामने आने बीसीसीआई की परेशानियां बढ़ गईं हैं। महाराष्ट्र में कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित है और मुम्बई के इस मैदान में ही आईपीएल का फाइनल 30 मई खेला जाना है।

खबरों के अनुसार, 19 कर्मचारी स्टेडियम में काम कर रहे हैं। इन सभी का कोरोना टेस्ट मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने पिछले हफ्ते कराया था, जिसमे से 26 मार्च को तीन कर्मचारियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। वहीं अगले जांच रिपोर्ट में 1 अप्रैल को सामने आई है, जिसमे 5 कर्मचारी संक्रमित पाए गए हैं। स्टेडियम के ज्यादातर कर्मचारी बस-ट्रैन से मैदान में रोजाना आते हैं लेकिन अब जब वानखेड़े स्टेडियम के कर्मचारी कोरोना संक्रमित हुए हैं तो ऐसे में अब आईपीएल खत्म होने तक सभी कर्मचारियों मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन रहने की भी सुविधा देगा।

कर्मचारियों के रहने की व्यवस्था बांद्रा कुर्ला कॉम्पलेक्स स्थित शरद पवार अकादमी और कांदीवली स्थित सचिन तेंदुलकर जिमखाना में व्यवस्था की जा सकती है। महाराष्ट्र में संक्रमण की बेकाबू रफ्तार को देखते हो सकता है कि मुंबई में आईपीएल मैच का आयोजन न हो। आईपीएल के मैच बिना दर्शकों के ही खेले जाने थे लेकिन बाद में संक्रमण के कम होते मामलों को देखते हुए फैसला किया गया था कि कोरोना के मामलों के देखते फैंस की मैदान में इंट्री का फैसला किया जा जाता है लेकिन संक्रमण ने अब जो डरावनी रफ्तार पकड़ी है।

उसे देखकर यही लग है कि मैदान आईपीएल के पिछले सीजन की तरह है इस बार मैदान खाली रहेंगे। गौरतलब है कि पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 89,019 नए मरीज सामने आए हैं। वहीं 44,176 संक्रमित मामले रिकवर हुए हैं और 713 लोगों की मौत हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here