• मेहमान को शीतल जल देना 

यदि हमारे घर में कोई मेहमान आए तो उसके घर में प्रवेश करते ही शीतल पेय जल अवश्य देना चाहिए। इस आदत से राहु के दोष दूर होते हैं। कालसर्प दोष या राहु से संबंधित अन्य कोई दोष हो तो इस आदत से कई शुभ फल प्राप्त हो सकते हैं।

  • इधर-उधर थूकने की आदत 

इधर-उधर, कहीं पर भी थूकने की आदत, अशुभ असर देने वाली होती है। इस आदत से यश, मान-सम्मान नष्ट होता है। ऐसे लोगों को यदि मान-सम्मान मिल भी जाता है तो वह अधिक समय तक टिकता नहीं है। लक्ष्मी के कोप का सामना करना पड़ सकता है। अत: इधर-उधर थूकने से बचना चाहिए, इस काम लिए निर्धारित स्थान का ही उपायोग करना चाहिए।

  • जूते-चप्पल इधर-उधर फेंकना

यदि कोई व्यक्ति बाहर से घर आते ही जूते-चप्पल इधर-उधर फेंक देता है तो यह आदत शत्रु भय बढ़ाने वाली है। शास्त्रों के अनुसार घर में बेतरतीब रखे हुए हुए जूते-चप्पल शत्रुओं को बलवान बनाते हैं। साथ ही, इस आदत के कारण मान-सम्मान में भी कमी आती है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here