6

बहुत कम ही लोगों को पता होगा कि दही को अगर गलत पदार्थों के साथ खाया जाता है तो यह काफी नुकसान दायक भी है। स्वाद के लिए अक्सर हम दही को किसी भी खाद्य पदार्थ के साथ खा लेते हैं, जो बाद में चलकर गंभीर बीमारियों को जन्म दे देता है। आयुर्वेद में दही को इन पांच खाद्य पदार्थों के साथ खाने की सख्त मनाही है।

मछली

दही और मछली को साथ में खाने से स्वास्थ्य को नुकसान पहुंच सकता है। क्योंकि दही में प्रोटीन की भरपूर मात्रा होती है और मछली में भी। स्वास्थ्य के लिहाज से यह सुझाव दिया गया है कि दो तरह के प्रोटीन का सेवन एक साथ नहीं करना चाहिए। वहीं दूसरी एक तर्क यह भी है कि दही शाकाहारी है और मछली मसाहारी स्रोत है। इन दोनों का सेवन साथ में करने से कई तरह के रोगों के जन्म होने की संभावना बढ़ जाती है।

प्याज

दही में प्याज मिलाकर खाने वालों को तत्काल अपनी यह आदत रोक देनी चाहिए। क्योंकि दही की ताशीर ठंडी होती है जबकि प्याज की ताशीर गर्म होती है। ऐसे में दोनों को साथ में मिलाकर खाने से शरीर को नुकासान पहुंचा सकता है। इससे शरीर में स्किन एलर्जी, रैशेज जैसी समस्याएं पैदा हो सकती हैं।

आम

आम के सीजन में स्वाद लेने के लिए कुछ लोग दही में आम के छोटे-छोटे तुकड़े डाल कर खाना पसंद करते है। लेकिन ऐसे लोग स्वाद के चक्कर में अपने स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा लेते हैं। यहां भी दोनों का भाव ठंड—गर्म वाला है। जो बाद में शरीर में स्किन से जुड़ी समस्याओं को पैदा करता है।

उड़द दाल

आयुर्वेद में दही के साथ उड़द की दाल को खाना सख्त मना किया गया है। आयुर्वेद के मुताबिक दही के उड़द की दाल खाने से पेट से जुड़ी कई समस्याएं हो सकती हैं।

दूध

सच तो यह है कि दूध से दही बनती है। लेकिन दोनों को साथ मिलाकर कभी भी नहीं खाना चाहिए। दोनों का साथ सेवन करने से एसीडिटी और गैस जैसी समस्याए हों सकती हैं।

तैलीय खाना

तैलीय पदार्थों के साथ दही का नहीं खाना चाहिए, इससे शरीर को नुकसान पहुंच सकता है। लोग पराठों के साथ अक्सर दही का सेवन करते है, लेकिन यह नुकसान दायक है। ऐसा करने से लोगों को बचना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here