10

इस बीच सरकार की तरफ से वैक्सीन के टीकाकरण अभियान तैयारी भी शुरू हो चुकी है। देश में सबसे पहले करीब तीस करोड़ लोगों को वैक्सीन के टीके लगाए जायेंगे। इसकी बाकायदा के सूची बन रही है, इसमें वो लोग पहले शामिल होंगे जो संक्रमण के लिहाज से खतरे वाले क्षेत्र में रहते हैं। इसके आलावा हेल्‍थकेयर, पुलिस, और सैनिटेशन कर्मचारियों को सबसे पहले वैक्सीन दी जाएगी। देश में सबसे पहले 30 करोड़ लोगों को 60 करोड़ टीके लगेंगे।

तीसरे चरण के बाद जैसे ही वैक्‍सीन को सरकार की और से हरी झंडी मिलेगी। उसके बाद टीके लगने की काम शुरू हो जायेगा। कोरोना वैक्सीन जिन्हे लगेगी उन्हें चार श्रेणी में रखा गया है। जिनमे करीब 70 लाख हेल्‍थकेयर वर्कर्स है, 2 करोड़ फ्रंटलाइन वर्कर्स और 26 करोड़ से ज्यादा वो लोग होंगे जिनकी उम्र 50 वर्ष से अधिक है या फिर वो किसी अन्य गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं क्योंकि कोरोना ऐसे मरीजों के लिए सबसे ज्यादा खतरनाक है। एक्‍सपर्ट की एक टीम ने वैक्सीन को लेकर एक ड्राफ्ट तैयार किया है, इस टीम को नीति आयोग के सदस्‍य डॉ वीके पॉल लीड कर रहे हैं।

टीम ने केंद्रीय और राज्‍यों की एजेंसियों के इनपुट पर ड्राफ्ट को तैयार किया है। इस ड्राफ्ट के अनुसार देश की 23 प्रतिशत आबादी को सबसे पहले कोरोना वैक्सीन के टीके दिए जाएंगे। इस ड्राफ्ट में 45 लाख पुलिस कर्मी और अन्य फोर्सेज के कर्मचारी के आलावा सेना के 15 लाख लोग भी शामिल किये गए हैं। वहीं 11 लाख एमबीबीएस डॉक्‍टर्स, 15 लाख नर्सेज, 10 लाख आशा वर्कर्स, 8 लाख आयुष प्रैक्टिशनर्स और 7 लाख एएनएम को शामिल किया गया हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here