मनोविशेषज्ञ कहते है कि जब भी कोई डिप्रेशन से जूझ रहा होता है, ये कोई भी हो सकता है आपका मित्र, परिवार का सदस्य, सहकर्मी | तो उसके व्यवहार पर गौर करने कि बहुत जरूरत है | जो लोग डिप्रेशन में होते है उनके व्यवहार में कुछ लक्षण देखने को मिलते है, जो डिप्रेशन के बारे में बताते है |
डिप्रेशन में होने पर व्यक्ति को नींद लेने में परेशानी होने लगती है, या फिर वो जरूरत से ज्यादा सोने लगता है |
डिप्रेशन में होने पर व्यक्ति को भूख का अनुभव नहीं होता, उसे खाना खाने का मन नहीं होता | कुछ मामलो में व्यक्ति को ज्यादा भूख लगने लगती है |
डिप्रेशन में होने पर इंसान का वजन तेजी से बढ़ने लगता है या घटने लगते है | उसके वजन में हर महीने 5 प्रतिशत बदलाव आता है |
उदासी डिप्रेशन का सबसे बड़ा संकेत है | ऐसा व्यक्ति अपने दोस्तों और परिवार के साथ भी खुश नहीं रहता है | भीड़ में भी वो अकेला होता है |
डिप्रेशन में व्यक्ति को बिना वजह थकान महसूस होने लगती है, चेहरे पर थकान दिखाई देती है |
डिप्रेशन में व्यक्ति अकेले रहना पसंद करता है, किसी से बात नहीं करता है | वह अपने में ही रहने लगता है |
डिप्रेशन में व्यक्ति का मन भटकता रहता है | कामो से ध्यान हटने लगता है, चीजे भूलने लगता है |
बता दे छोटी छोटी बातो पर गुस्सा करना चिड़चिड़ापन डिप्रेशन का बाद लक्षण है, साथ ही बिना वजह गुस्सा आना भी इसका लक्षण है |
डिप्रेशन में होने पर व्यक्ति के मन में उलटे सीधे ख्याल आने लगते है उन्हें अपनी जिंदगी नीरस लगने लगती है | नीरसता उनकी बातो में झलकने लगती है |
डिप्रेशन से जूझ रहे व्यक्ति के मन में किसी चीज को लेकर डर बैठ जाता है | ये किसी भी चीज से जुड़ा हो सकता है जैसे अँधेरा, बंद कमरा या कोई दुर्घटना |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here