4

कोरोनावायरस(Corona virus) कि आई दूसरी लहर दुनिया में कोहराम मच आए हुए हैं। ऐसे में लोग इस महामारी से बचने के हर उपाय को अपना रहे हैं कहते हैं। जिन व्यक्तियों के शरीर की इम्यूनिटी(immunity) अच्छी है। उन्हें इसका खतरा कम है। ऐसे में अपने इम्यूनिटी का ख्याल रखना बहुत ही जरूरी हो गया है। लोग एमएमयूटी को बढ़ाने के लिए तरह-तरह की मेडिसिन और महंगी डाइट करना पसंद कर रहे हैं। जबकि इसे बढ़ाने का सबसे सस्ता और प्राकृतिक उपाय भी है। हेल्थ एक्सपर्ट ने दावा करते हुए कहा कि गिलोय की पत्तियों को पानी में उबालकर पीने से शरीर की एमएमयूटी बढ़ाई जा सकती है। बहुत से लोग तो इसकी पत्तियों को अन्य फलों के साथ जूस में मिलाकर पीना पसंद करते हैं।

गिलोय की पत्तियों का रंग रूप बिल्कुल पान के पत्ते की तरह होता है। इसकी पत्तियों में कैल्शियम प्रोटीन फास्फोरस पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। इसके साथ ही इस केतनो में स्टार्च की भी अच्छी मात्रा होती है। यह पूर्ण रूप से एक पावरफुल ड्रिंक है। जो इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने के साथ-साथ कई बड़ी बड़ी बीमारियों से लड़ने में हमारी मदद करता है। हमें उनसे सुरक्षित रखता है।

कॉफी में मिलाकर करें प्रयोग

मेटाबॉलिज्म सिस्टम बुखार खांसी जुखाम आदि की समस्या के अलावा भी यह कई बड़ी बीमारियों से हमारी रक्षा करता है इसे उबले पानी या जूस के अलावा काला चाय या कॉफी में भी इसका प्रयोग कर सकते हैं विज्ञान जगत के बड़े-बड़े महारथीभी गिलोय के पत्तों को एक बेहतरीन आयुर्वेदिक उपचार मानते हैं।

  • गिलोय एनीमिया दूर करने में बहुत महत्वपूर्ण है इसे घी और शहद के साथ मिलाकर लेने से शरीर में खून की कमी को दूर करता है।
  • पीलिया के मरीजों के लिए भी क्लोए के पत्ते को बहुत अच्छा माना जाता है काफी हद तक फायदेमंद होता है कुछ लोग इसे चूर्ण के रूप में लेते हैं तो कुछ इसकी पत्तियों को पानी में उबालकर पीते हैं अगर आप चाहे तो गिलोय की पत्तियों को पीसकर शहद के साथ मिलाकर प्रयोग में ला सकते हैं।
  • हाथ पैरों में जलन या स्किन एलर्जी से परेशान हैं। तो आप इसे डाइट में शामिल कर सकते हैं। दिलों की पत्तियों को पीसकर उसका पेस्ट तैयार कर लें। फिर सुबह शाम पैरों पर और हथेलियों पर लगाए या बहुत फायदेमंद साबित होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here