10

देश में ईद का मौका है। इस दौरान महाराष्ट्र के सांगली जिले में एक ऐसा भी बकरा है, जिसका दाम डेढ़ लाख रुपये तक चला गया है। इतना ही नहीं यह बकरा कई कारणों से चर्चा में है। इन दिनों यह बकरा लोगों के आकर्षण का केंद्र बना हुआ है।

मामला सांगली जिले के पेड़ गांव का है। जहां सुरेश शेंडगे नाम के व्यक्ति ने एक बकरा पाला है। इस बकरे की खासियत ये है कि इस बकरे के माथे पर कुदरती तौर पर चांद बना हुआ है। जिसकी वजह से खरीदारों ने बकरे की कीमत डेढ़ लाख रुपये लगाई है।

हाजी जब्बार रहिमतपुरे का कहना है कि ऐसी मान्यता है कि बकरी ईद पर जिस बकरे की कुर्बानी दी जाती है उनमें से अगर किसी पर चांद बना हुआ है तो वह काफी अच्छा माना जाता है। साथ ही अगर ऐसे चांद की आकृति उसके बदन पर हो तो अल्लाह वह कुर्बानी कुबूल करता है। इस मान्यता के चलते ऐसे बकरों की कीमत आम बकरों से ज्यादा लगाई जाती है।

इसी मान्यता के आधार पर बकरे के मालिक सुरेश शेंडगे का कहना है कि इस बकरे के लिए अबतक डेढ़ लाख की कीमत देने के लिए लोग तैयार हो चुके हैं। माथे पर चांद की आकृति होने की वजह से इस बकरे की कीमत आम बकरों से कई गुना ज्यादा हो गई है।

उनका कहना है कि इस बकरे को उन्होंने बड़े लाड़ प्यार से पाला है। यब बकरा 18 महीने का यह बकरा 90 किलो वजन का है। इसे हरी घास के अलावा चना दाल, गेहूं, और मूंगफली के दाने दिन में तीन बार खिलाए जाते हैं। उसका बहुत खयाल रखा जाता है। फिलहाल हम इस बकरे की अच्छी कीमत का इंतजार कर रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here