इस बात पर नाराज था युवक, CM हाउस के बाहर खुद को आग लगाकर की जान देने की कोशिश

पटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के हाउस के बाहर एक युवक ने खुद को आग लगाकर आत्मदाह की कोशिश की। हालांकि वहां मौजूद पुलिसकर्मियों की तत्परता से उसकी जान बचा ली गई। लेकिन आग से युवक का एक हाथ जल गया है। फिलहाल युवक का इलाज कराया जा रहा है। रविवार के दोपहर हुई इस घटना से सीएम हाउस के बाहर कुछ देर के लिए अफरातफरी का माहौल हो गया। पुलिस की अभिरक्षा में युवक का इलाज कराया जा रहा है। उससे पूछताछ कर मामले की छानबीन की जा रही है।

अभिजीत नामक युवक ने की आत्मदाह की कोशिश
मिली जानकारी के अनुसार खुद के शरीर में आग लगाकर आत्मदाह करने वाले युवक का नाम अभिजीत शर्मा है। वह पीएमसीएच के डॉक्टरों से व्यवहार से नाखुश था। अभिजीत ने बताया कि उसकी मौसी की मौत डेंगू के कारण हुई थी। पीएमसीएच के डॉक्टरों ने अपनी जांच में उसकी मौसी डेंगू का रिपोर्ट निगेटिव बताई थी। लेकिन निजी क्लीनिक में इलाज के दौरान उसकी मौसी की मौत हो गई। जिस बात से वो नाराज था। उसने पीएमसीएच के डॉक्टरों पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया।

पुलिस की तत्परता से बची जान, इलाज जारी
सीएम हाउस के बाहर खुद के शरीर में आग लगाने वाले युवक अभिजीत की जान पुलिस की तत्परता से बचाई गई। जैसे ही युवक ने आग लगाई आस-पास मौजूद जवानों ने तत्काल आग बुझाते हुए इलाज के लिए लेकर निकल गए। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार यदि थोड़ी ही देर होती तो युवक की हालत गंभीर हो सकती है। फिलहाल पुलिस की मौजूदगी की युवक का इलाज कराया जा रहा है। आवेदन मिलने पर पुलिस मामले में छानबीन करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.