इस रिक्शा चालक की बेटी की शादी में हर तरफ मोदी की चर्चा, हर गेस्ट ने उस लेटर को देखना चाहा

वाराणसी (Uttar Pradesh). पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने ससंदीय क्षेत्र में रहने वाले रिक्शा चालक मंगल केवट को पत्र भेजा है। मंगल गंगा किनारे के डोमरी गांव का रहने वाला है। बता दें, पीएम मोदी ने वाराणसी के जयपुरा के साथ डोमरी गांव को भी गोद लिया है।

क्या है पूरा मामला
रिक्शा चालक मंगल केवट ने कुछ दिन पहले अपनी बेटी की शादी में शामिल होने के लिए पीएम मोदी को आमंत्रण पत्र भेजा था। यह आमंत्रण पत्र पीएम के दिल्ली और वाराणसी कार्यालय पर दिया गया था। जिसके जवाब में पीएम की तरफ से भी एक पत्र आया। यह पत्र 13 फरवरी को मंगल की बेटी की शादी से कुछ घंटे पहले उसके घर पर आया। जिसे देख पूरे परिवार की आंखों में आंसू आ गए। पत्र के जरिए पीएम ने बेटी और उसके जीवनसाथी समेत पूरे परिवार को बधाई और शुभकामनाएं दी।

पीएम मोदी से प्रभावित हैं मंगल केवट
रिक्शा चालक की बेटी की शादी में हर ओर पीएम मोदी के पत्र की चर्चा थी। शादी में आने वाले हर शख्स ने एक बार जरूर उस पत्र को देखा। बता दें, मंगल केवट पीएम मोदी से बेहद प्रभावित हैं। इसी वजह से वो जो कुछ भी कमाते हैं, उसमें से कुछ हिस्सा मां गंगा के लिए खर्च करते हैं। अपने खर्च पर राजघाट पुल और उसके आसपास गंगा के किनारे हर रोज स्वच्छता अभियान चलाते हैं। साल 2019 में वो रिक्शा चलाकर पीएम मोदी से मिलने नई दिल्ली जाने के लिए डीएम से परमिशन मांगने गए थे। जिसके बाद वो चर्चा में आए थे।

पीएम मोदी ने खुद मंगल को दिलाई थी सदस्यता
साल 2019 में पीएम मोदी बीजेपी के सदस्यता अभियान की शुरुआत करने बनारस आए थे। उस समय उन्होंने अपने हाथ से मंगल केवट को बीजेपी की सदस्यता दिलाई थी। इसके बाद से मंगल का उत्साह चरम पर है और वो लगातार स्वच्छता अभियान में जुटे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.