7

इस तरह की घटना को एक संयोग ही कहा जा सकता है। लेकिन इसकी वजह से पूरा परिवार काफी परेशान नजर आ रहा है। लड़के के पिता चंद्रमौली मिश्रा से बात करने पर उन्होंने बताया कि जब मेरे बेटे को सांप ने तीसरी बार काटा, तब मैंने उसे बहादुरपुर गांव के अपने रिश्तेदार रामजी शुक्ला के पास भेज दिया। लेकिन कुछ दिनों बाद जब वह घर लौटा तो फिर से उसी सांप को देखा और उसने फिर से उसे काट लिया। यशराज को तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां वह इलाज के बाद ठीक हो गया। लगातार हो रही इस घटना से पूरा परिवार डरा—सहमा नजर आ रहा है।

चंद्रमौली ने बताया कि लड़के को सांपों को दूर रखने के लिए वैकल्पिक तरीके भी अपना रहे हैं। लेकिन किसी से लाभ नहीं मिल रहा है। उन्होंने आगे कहा कि हमारी समझ में यह नहीं आ रहा है कि यह सांप यशराज को ही क्यों निशाना बना रहा है। इसके चलते लड़का अब मानसिक रूप से परेशान है और सांप के डर से पूरे समय खौंफ में रहता है। हम इसके लिए पूजा—पाठ भी करवा रहे हैं। सांप को पकड़ने के लिए सपेरों को भी बुलाया लेकिन कोई फायदा नहीं मिल रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here