11

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh), राजस्थान, मध्य प्रदेश में आकाशीय बिजली गिरने से 68 लोगों की मौत हो गई है। उत्तर प्रदेश में ही 41 लोगों की मौत अलग-अलग जिलों में हुई है। सूबे में सबसे ज्यादा मौतें प्रयागराज जिले में हुई है। प्रशासन ने मुताबिक जिले में 14 लोगों की मौत आकाशीय बिजली गिरने की वजह से हुई है। वहीं फतेहपुर और कानपुर देहात में पांच-पांच मौतें, कौशांबी में चार, फिरोजाबाद में तीन, उन्नाव,हमीरपुर,सोनभद्र में दो-दो और प्रतापगढ़, कानपुर नगर, मिर्जापुर में एक-एक मौत आकाशीय बिजली गिरने की वजह से हुई है। इसके अतिरिक्त बिजली से 22 लोग झुलसे है।

वहीं 200 से अधिक मवेशियों की भी मौत हुई है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने पीड़ितों को तुरंत सहायता राशि उपलब्ध कराने के अधिकारियों को दिए हैं। गौरतलब है कि प्रदेश के कई जिलों में रविवार शाम को मौसम खराब हो गया था, जिसके बाद कई जिलों में बारिश के आकाशीय बिजली गिरने की घटना हुई।

राजस्थान में 20 की मौत
आकाशीय बिजली गिरने से राजस्थान (Rajasthan) में बीस लोगों की जान गई है। जयपुर में 11, कोटा में 4, धौलपुर में 3 और झालावाड़ बारां में 1-1 मौत हुई है। राजस्थान सरकार की ओर से सभी मृतक परिजनों को पांच-पांच लाख का मुआवजा देने की घोषणा की गई है, जिसमे चार लाख इमरजेंसी रिलीफ फंड से और एक लाख मुख्यमंत्री राहत कोष से मिलेगा। सीएम अशोक गहलोत ने आकाशीय बिजली गिरने से मरने वालों को श्रद्धांजलि देते हुए उनके परिजनों को तत्काल मदद करने का निर्देश अधिकारियो को दिया है।

मध्य प्रदेश में 7 की मौत
आकाशीय बिजली गिरने का कहर मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में भी देखने को मिला। सूबे में पिछले 24 घंटे में बिजली गिरने की वजह से अलग-अलग जिलों में 7 लोगों की मौत हुई है। ग्वालियर और श्योपुर जिले में 2-2 लोगों की मौत हुई है। जबकि अनुपपूर, शिवपुरी, बैतूल जिले में 1-1 मौतें हुई हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here