6

आप खुद ही सोचिये. सभी जानते है कि ऐसी पहचान करने के लिये सिर्फ एक ही तरीका होता है और वो है नम्बर प्लेट और इसी की ही मदद से काफी सारी चीजे है जो निकाल पाते है, लेकिन क्या हो अगर यही चीज फ़र्जी हो? और इसके एक साथ कई सारे मामले देखने में आ जाए तब तो फिर कहने ही क्या? ये पूरा मामला थाना न्यू आगरा की घटना है जहाँ पर पुलिस को एक ही नम्बर एक या दो नही बल्कि तीन तीन ऑटो मिल गये. ये अपने आप में काफी ज्यादा अचरज करने वाली बात थी तो ऐसे में उनसे रिक्शा के कागजात दिखाने के लिए कहा गया.

इन तीनो ही रिक्शा के नम्बर थे यूपी 80 बीटी 6522.  अब संयोग देखिये तीनो ही ऑटो एक साथ एक ही जगह पर खड़े हुए थे दरगाह के सामने और पुलिस की इनपर नजर पड़ गयी. ऐसे में पुलिस उनके पास पहुँची और कागज़ दिखाने को कहा तो एक शख्स ने तो कागज़ दिखा दिए तो उसे जाने दे दिया

लेकिन बाकी के दो लोग बंटू और कन्हैया कागज़ नही दिखा सके तो उनकी रिक्शा को जब्त कर लिया गया और उन्हें धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस को शक है कि इन फर्जी नम्बरों की मदद से संभवत कोई गलत काम भी अंजाम दिए जाने की कोशिश की जा रही होगी तो ऐसे में जाँच चल रही है और उम्मीद है जल्द ही इसका भांडा भी फूट जाएगा.

हालांकि ऐसे भी कई केस देखने में आये है जहाँ पर चोरी की गाडियों को फर्जी की नम्बर प्लेट के साथ बेचा या चलाया जाता है मगर इस रिक्शा का क्या चक्कर है? ये तो आने वाले समय में ही पता चल पायेगा जब पुलिस छानबीन करेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here