बसपा सुप्रीमो मायावती ने राजस्थान और मध्यप्रदेश में नवगठित कांग्रेसी सरकार से एक बड़ी मांग कर बैठी थी जिसे कांग्रेस ने मान लिया और मायावती को उम्मीद से ज्यादे देने पर विचार कर रही है।

सोमवार को मायावती ने मध्य प्रदेश और राजस्थान की कांग्रेस सरकारों से भारत बंद के दौरान दोनों राज्यों में दर्ज मुकदमे वापस लेने की मांग करते हुए कहा है कि अगर ऐसा नहीं होता है तो पार्टी दोनों राज्यों की सरकारों को दे रही समर्थन पर दोबारा विचार करेगी। इसके बाद कांग्रेस हरकत में आई।

मध्यप्रदेश में कमलनाथ के कानून मंत्री पीसी शर्मा ने मंगलवार को कहा कि 2 अप्रेल 2018 में भारत बंद के दौरान जितने भी केस (एससी / एसटी एक्ट 1989) हैं और इसी तरह के भाजपा द्वारा दायर पिछले 15 वर्षों में इसी तरह के सभी मामलों को सरकार द्वारा वापस ले लिया जाएगा।

आपको बता दें कि मायावती ने पिछले साल दो अप्रैल को भारत बंद के दौरान दर्ज मुकदमों की बात कही थी लेकिन कांग्रेस ने बड़ा फैसला लेते हुए 15 सालों के दर्ज मुकदमे को वापस लेने की तैयारी कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here