ये इस जगत का अटल सत्य है जिसे कोई भी नकार नहीं सकता है। फिर भी लोग इस सत्य को स्वीकार करने से डरते है और  मौत को धोखा देना चाहते है, लेकिन ऐसा सम्भव नहीं है। हालाँकि उम्र भले ही थोड़ी लम्बी हो सकती है लेकिन अजर नहीं हुआ जा सकता है।

अब अगर हम आपको बताये की ऐसा तरीका है जिससे यह पता लगाया जा सकता है की आप कितना जियेंगे, आपका जीवन कब तक है तो शायद आपको इसे मानने में थोड़ी कठिनाई हो सकती है। लेकिन शास्त्रों में ऐसे कई तरीको का वर्णन किया गया है, जिनसे मनुष्य की अंतिम आयु का पता लगाया जा सकता है |

समुद्रशास्त्र में बताया गया है कि हाथो की लकीरो और माथे की लकीरो से यह पता लगाया जा सकता है की मनुष्य कितना जीने वाला है और वही ज्योतिषशास्त्र में मनुष्य की कुंडली को देखकर यह अनुमान लगाया जाता है की मनुष्य की उम्र में कब तक जीना लिखा है | ऐसे में आज हम आपको एक ऐसे सरल तरीके के बारे में बताने जा रहे है जिससे आप खुद इस बात का पता लगा सकते है की आप आने वाले समय में कितना जियेंगे |

समुद्रशास्त्र में बताया गया है तरीका 

समुद्रशास्त्र में बताया गया है की अगर कोई व्यक्ति अपने शरीर को अंगुली से नापता है और वह 108 आता है तो वह दीर्घायु प्राप्त करता है और जो व्यक्त्वि ऊँगली से नापने पर 90 ऊँगली ही आता है उसकी उम्र माध्यम ही मानी जाती है, ऐसा माना जाता है की अगर किसी की नाप 90 उंगलियों से भी कम आती है वह अल्पायु होता है, जिस कारण ऐसे लोगो की उम्र औरो की तुलना में काफी कम होती है |

इसके अलावा समुद्रशास्त्र में एक अतरिका यह भी बताया गया है की अगर किसी की माथे की लकीरे एक ओर से दूसरी ओर तक कनपटी को छूती है तो वह व्यक्ति बहुत ही भाग्यशाली होता हैऔर साथ ही वह दीर्घायु को प्राप्त करता है |

इन तरीको की मदद से आप किसी की भी उम्र का अनुमान लगा सकते है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here