कोरोना वायरस के खतरे में ब्लड ग्रुप का भी बहुत बड़ा रोल है। कुछ खास ब्लड ग्रुप पर कोरोना वायरस ज्यादा ही खतरनाक है। A ब्लड ग्रुप वालों लोगो को कोरोना वायरस का खतरनाक संक्रमण हो सकता है। सबसे पहले यहां जानकारी चीन के मेडिकल साइंटिस्ट द्वारा दी गई थी। कोरोना वायरस के गंभीर रूप से ग्रसित मरीजों में A ब्लड ग्रुप वाले मरीजों की संख्या अधिक पाया गया है। जर्मनी के रिचार्ज में भी इस बात की पुष्टि हुई है, कि A ब्लड ग्रुप लोगों के लिए कोरोना वायरस ज्यादा खतरनाक है।

जर्मनी की यूनिवर्सिटी ऑफ कील ने अपने अनुसंधान में कहा है कि खास तरह के डीएनए या जींस इसके लिए जिम्मेदार है।  यूनिवर्सिटी ऑफ कील के अनुसंधान से पता चला है कि A ब्लड ग्रुप वाले मरीजों को बाकी मरीजों से कोरोना वायरस का 50 फीसदी की अधिक खतरा है। इसमें से अधिक मरीजों को वेंटिलेटर की जरूरत पड़ सकती है।

जर्मनी ने अपने रिसर्च के बाद कहा है कि A ब्लड ग्रुप वालों लोगो को कोरोना वायरस से ज्यादा सावधान रहने की जरूरत है। A ब्लड ग्रुप वाले युवाओं पर भी इनका बहुत खतरनाक असर होगा। सभी ए ब्लड ग्रुप वाले लोगों को से ज्यादा सतर्क रहें कि जरूरत है।

रिसर्च में यह भी पता चला है कि O ब्लड ग्रुप वाले लोगों को कोरोना का कम खतर है। साथ ही इनमें रिकवर होने के चांस बहुत ज्यादा है।

दोस्तों अगर आपको कोरोना वायरस से संबंधित कोई भी जानकारी या न्यू जानना हो तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here