लॉकडाउन में छूट दिए जाने के बाद संक्रमण की जो रफ्तार बढ़ी है, वह डरावने वाले हैं। पिछले 24 घंटों में भारत में कोरोना संक्रमण के 10 हजार नए मामलों की पहचान हुई है, जो अब तक का सबसे अधिक एक दिन का रिकॉर्ड है। देश में मामलों की संख्या अब 2,26,770 पार चली गई है। संक्रमण की अगर यही रफ्तार जारी रही, तो छठे सबसे बुरी तरह प्रभावित देश इटली से आगे निकलने में भारत को ज्यादे से ज्यादा दो दिन लगेंगे। मौजूदा समय में इटली में कोविड -19 के 2,33,836 मामले हैं।

संक्रमण से हुई मौतों पर गौर करें तो भारत की स्थिति बेहतर है। यहां मरने वालों की संख्या इटली से पांच गुना कम है। कई राज्यों ने संक्रमण के मामले में अपने उच्चतम एक दिवसीय उछाल को दर्ज किया। संक्रमण से सबसे ज्यादा महाराष्ट्र, दिल्ली, गुजरात, तमिलनाडु जैसे राज्य प्रभावित हैं। महाराष्ट्र में मरीजों की संख्या 77,793 पार चली गई है। इनमें 41402 मामले सक्रिय हैं तथा 33681 मरीज ठीक होकर जा चुके हैं। तो वहीं 2710 लोगों की मौत भी हो चुकी है। राजधानी दिल्ली में अब तक 25004 मामले आए हैं, जिसमें से 14456 मामले सक्रिय हैं। 9898 मरीज ठीक हुए हैं और 650 लोगों की मौत हुई है।

इसी क्रम में तमिलनाडु में कोरोना मरीजों की संख्या 27256 पहुंच गई है। इसमें से 12134 मामले सक्रिय हैं तथा 14902 लोग ठीक होकर घर जा चुके हैं। वहीं इससे अब तक 220 लोगों की जान जा चुकी है। गुजरात में कोरोना के 18584 मामले सामने आए हैं, जिसमें 4762 मामले सक्रिय हैं। इसी के साथ ही अब तक राज्य में 1155 लोगों की मौत हुई है। उत्तर प्रदेश में अभी तक 9237 संक्रमण के मामले सामने आए हैं। इसमें से 245 लोगों की जान जा चुकी है। यहां अभी 3553 मामले सक्रिय हैं। इसी तरह मध्य प्रदेश में 8762 संक्रमण के मामले आए हैं, जिसमें से 2748 सक्रिय हैं तथा 5637 लोग ठीक होकर घर जा चुके हैं। यहां अब तक 377 लोगों की मौत हुई है। लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कार्यालयों के लिए एसओपी जारी कर कहा कि कोरोना से प्रभावित क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को क्षेत्र के संक्रमणमुक्त होने तक घर से काम करने की अनुमति दी जाएगी। इस अवधि को अवकाश में नहीं गिना जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here