हिन्दू धर्म से संबंध रखने वाले सभी लोग अपने घरो में अपने इष्ट देव की पूजा अर्चना अवश्य करते है | कई लोगो के आराध्य देव लड्डू गोपाल भी होते है | ऐसे में लोगो की बड़ी आस्था उनसे जुडी है और वे नित उनकी पूजा करते है | लड्डू गोपाल जी की पूजा अर्चना करने के से पहले उनको नहलाया जाता है, वस्त्र पहनाया जाता है और उनकी पूजा की जाती है | ये तो सभी जानते है कि प्रत्येक भगवान की पूजा अर्चना से जुड़े कुछ ना कुछ नियम जरूर होते है | ऐसे में आज हम आपको लड्डू गोपाल से जुड़े कुछ नियम आदि की जानकारी देने जा रहे है |
आप लड्डू गोपाल जी की पहले उन्हें नित नहलाना चाहिए और नित ही उनके वस्त्र बदलने चाहिए | यदि आप अपने घर में लड्डू गोपाल जी को ला रहे है तो इस बात का ध्यान रखे कि आपके मन में ऐसे भाव होने चाहिए कि वे आपके घर के सदस्य है और |
हम जब भी अपने घर में कुछ खाने पीने की वस्तु लाते है, तो सबसे पहले घर के छोटो को देते है | ऐसे में आप लड्डू गोपाल जी को अपने घर का सबसे छोटा सदस्य माने और उन्हें उस चीज का भोग लगाए | इतना ही नहीं यदि आप घर में कुछ पकवान भी बनाते है तो आप सबसे पहले लड्डू गोपाल को भोग लगाए |
आपके घर में यदि लड्डू गोपाल जी है, तो इस बात का ध्यान रखे कि आप उनकी नियमित रूप से पूजा करे | शाम के समय उनकी पूजा और अर्चना करे, उन्हें भोग लगाए | इस बात का ध्यान रखे की आप दिन के समय लड्डू गोपाल जी की पूजा ना करे |
कई बार घर के सदस्यों को काम से बहार जाना पड़ता है | ऐसे में आप भी जा रहे है, तो अपने घर की चाबी लड्डू गोपाल जी को देकर जाए | साथ ही ये  प्रार्थना करे कि लड्डू गोपाल जी आपके परिवार की रक्षा करे |
आप इस बात का ख़ास ख्याल रखे कि आप दिन में 4 बार लड्डू गोपाल जी को भोग अवश्य लगाए | ऐसा माना जाता है कि लड्डू गोपाल जी को भूख बहुत ज्यादा लगती है  |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here