क्रीम या दूध को मथ कर तैयार किया जाता है। भारत के कई क्षेत्रों में इसे माखन भी कहा जाता है। मक्खन में बहुत सारे खनिज तत्व होते हैं जैसे मैंगनीज, क्रोमियम, आयोडीन, जस्ता, तांबा और सेलेनियम और इसमें कई विटामिन भी होते हैं जैसे विटामिन ए, विटामिन डी, विटामिन ई और विटामिन K हैं। मक्खन में कुछ ऐसे फैटके प्रकार भी होते हैं जो हमारे शरीर के लिए बहुत लाभकारी होते है।  

हड्डियों को मजबूत :

मक्खन में आवश्यक खनिज जैसे मैंगनीज, जस्ता, तांबा और सेलेनियम पाए जाते हैं। हड्डियों के स्वास्थ्य को बनाए रखने और उनकी मरम्मत करने के लिए ये सभी तत्व महत्वपूर्ण होते हैं। इन खनिजों के सेवन के बिना, आप ऑस्टियोपोरोसिस, गठिया के शिकार हो सकते हैं। इसलिए आज से ही मक्खन का सेवन शुरू कर दें अगर आप अपनी हड्डियों को मजबूत रखना चाहते हैं।

गठिया को दूर :

मक्खन में एक दुर्लभ हार्मोन जैसा पदार्थ होता है जो केवल मक्खन और क्रीम में पाया जा सकता है। इसे “वुल्ज़न फैक्टर” (Wulzen Factor) कहा जाता है और यह जोड़ों में कैल्शियम जमने से रोकता है, जो गठिया का कारण बनता है। यह केवल जानवरों से प्राप्त आहार में पाया जाता है, जैसे कि क्रीम या दूध।

आँखों को स्वस्थ :

मक्खन में अन्य पोषक तत्वों की तरह बीटा कैरोटीन भी काफी होता है। बीटा कैरोटीन आंखों के स्वास्थ्य के लिए बहुत ही स्वस्थ माना जाता है। यह आंखों को स्वस्थ रखने के अलावा मोतियाबिंद होने से रोकने और मैकुलर डिजनरेशन (बढ़ती उम्र के साथ होने वाली आँखों को क्षति) की संभावनाओं को कम करने में मदद करता है। यह आंख से संबंधित समस्याओं के जोखिम को भी कम करता है।

बचाएं कैंसर से :

विटामिन ए और बीटा कैरोटीन पर की गई रिसर्च के अनुसार ये दोनों पोषक तत्व कोलोरेक्टल कैंसर और प्रोस्टेट कैंसर को रोकने के लिए बहुत जरूरी होते हैं। यह ब्रैस्ट कैंसर को रोकने में प्रभावी हो सकते हैं, लेकिन इस पर अभी और शोध की जरूरत है।

मक्खन में “कॉंजगेटेड लिनोलिक एसिड” (Conjugated Linoleic Acid) भी पाया जाता है जो कैंसर को रोकने में मदद करता है। मक्खन के सेवन से कैंसर के बढ़ने की संभावना भी कम हो सकती है। लेकिन ध्यान रखें, यदि आप विटामिन ए का अधिक सेवन करते समय धूम्रपान करते हैं तो इससे फेफड़ों के कैंसर की संभावना बढ़ सकती है

बटर के नुकसान :

मक्खन के स्वास्थ्य लाभों के अलावा, यह भी जानना महत्वपूर्ण है कि मक्खन फैट का भी एक स्रोत है। तो आइये जानते हैं इससे जुड़े कुछ जोखिम के बारे में :

  • जो लोग मोटापे से ग्रस्त हैं या जो वजन कम करने की कोशिश कर रहे हैं उन्हें इसके सेवन से बचना चाहिए। 
  • इसके अलावा मक्खन में अस्वस्थ कोलेस्ट्रॉल होता है। इसलिए यदि आप इसका बहुत अधिक मात्रा में सेवन करते हैं, तो इससे हृदय रोग, कैंसर, मोटापे और अन्य स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।

ध्यान रहे कि सभी चीजों को सीमित मात्रा में ही खाना चाहिए, और आवश्यक मात्रा से ऊपर कभी नहीं लें। यह बात मक्खन के लिए भी सच है!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here