6

(Ghazipur)। उत्तर प्रदेश के गाजीपुर (Ghazipur) से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है जहां मंगलवार को गंगा नदी में एक लकड़ी के बक्से में एक नवजात बच्ची तैरती हुई मिली। वहीं जिस बक्से में बच्ची मिली उसमें देवी-देवताओं की फोटो भी लगी हुई मिली। ग्रामीणों ने जब उस बक्से को खोला तो आश्चर्यचकित रह गए। हालांकि राहत की बात ये रही कि बच्ची बिल्कुल ठीक थी।

यह मामला गाजीपुर (Ghazipur) शहर के ददरी घाट का है। जहां एक निर्दयी मां ने अपनी छोटी सी बच्ची को गंगा में बहा दिया। वहीं बक्से में देवी-देवताओं की मूर्ति के साथ एक जन्म कुंडली भी रखी मिली है। जिसमें उसका नाम गंगा लिखा था। पुलिस बच्ची को आशा ज्योति केंद्र ले गई।

सदर कोतवाल ने विमल मिश्रा के मुताबिक ददरी घाट पर गंगा किनारे एक लकड़ी के बक्से से बच्चे के रोने की आवाज सुनाई दी जिसके बाद एक नाविक ने बक्से के पास जाकर देखा को बक्से में बच्ची रो रही थी। जिसके बाद वहां लोगों की भीड़ जुट गई।

बच्ची को पालना चाहता था नाविक

बच्ची मिलने के बाद वह नाविक उस बच्ची को अपने घर ले गया। उसके परिवार वाले उस बच्ची को पालना चाहते थे, लेकिन लोगों ने मामले की सूचना पुलिस को दी। जिसके बाद पुलिस बच्ची को आशा ज्योति केंद्र ले गई।

आए दिन ऐसी ही घटनाएं सामने आती रहती है। जब मां-बाप कभी लिंग भेद के कारण तो कभी अपने लोग अपने अनैतिक कृत्यों को छुपाने के लिए सड़को, कूड़ेदान या नदियों में ऐसे ही नवजात बच्चों को मरने के लिए छोड़ देते हैं। ऐसे लोगो के खिलाफ सरकार को कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए जिससे ऐसा करने में वो हजार बार सोचे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here