6

गर्मी के सीजन में लोग आमतौर पर लस्सी, शरबत, और ठंडा सलाद हमारे दैनिक आहार के रूप में लेने लगते हैं। लेकिन आप रसोई में रखे जिन मसलों को डाइट में शामिल कर ठंडक पा सकते हैं। इन मसालों के बारे में आयुर्वेद में भी पुष्टि की गई है। जिनके जरिए हम गर्मी में ठंडक का अहसास ले सकते हैं।

हरी धनिया

खाने में धनिया का प्रयोग लोग सभी मौसम में करते हैं। धनिया ना सिर्फ हमारी सब्जियों के स्वाद को बढ़ाते हैं। बल्कि यह सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है। धनिया का नींबू पानी और पुदीना के साथ सेवन करने से इम्यूनिटी बूस्टर होती है। साथ ही इनकी पत्तियों का सेवन करने से पसीने की बदबू भी दूर होती है। धनिया में मिश्री मिलाकर पीने से गर्मी से होने वाले सिर दर्द में भी काफी राहत मिलती है।

इलायची

भारतीय परंपरा में शॉप की तरह ही हरी इलायची का यूज़ माउथ फ्रेशनर के रूप में किया जाता है। जिससे लोगों के मुंह से आने वाली बदबू दूर हो जाती है। इलायची में पोटेशियम, कैल्शियम, मैग्नीशियम जैसे खनिज पदार्थ पाए जाते हैं। इलायची में भरपूर मात्रा में फाइबर भी पाया जाता है। इससे गर्मी में होने वाली एसिडिटी सीने में जलन एसिडिटी कब्ज जैसी पेट की समस्या दूर की जा सकती है।

पुदीना

गर्मी के दिनों में लोग इम्यून सिस्टम को मजबूत करने के लिए पुदीना का ज्यादा से ज्यादा प्रयोग करते हैं। आयुर्वेद में पुदीना को एक औषधि बताया गया है। पुदीना का प्रयोग बहुत तरह की औषधि बनाने में किया जाता है। बहुत से  लोग एसिडिटी, सीने में दर्द और बदन में जैसी प्रॉब्लम्स से पीड़ित होते हैं। ऐसे में पुदीने की पत्ती एक नेचुरल हर्बल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here