7

लेकिन गोवा की बीच पर इन दिनो काफी मात्रा में जेली फिश दिखाई दे रही है। दर असल गोवा की बीच अपनी खुब सूरती के लिए फेमस है। लेकिन इन दिनों जेली फिश के आ’तं’क के लिए जानी जाती हैं। रिपोर्ट की मानें तो अब तक 90 लोगो को जेली फिश ने डंक मा’रा है,

जिसके बाद वहां आ’तं’क बना हुआ है। जेली फिश के संपर्क में आने के बाद इलाज कराना काफी जरूरी होता है। रिपोर्ट के हवाले से जो खबर सामने आई है। उसके अनुसार गोवा के बग्गा कैलग्युटं बीच पर जेली फिश का शि’का’र होने के 55 से ज्यादा मामले सामने आए हैं जबकि कैडोलिम बीच पर इस जेली फिश ने 10 लोगो को डं’क मा’रा है। वहीं दक्षिण गोवा में भी 25 से ज्यादा मामले पेश हुए हैं।

बता दें कि अगर कोई व्यक्ति जेली फिश के संपर्क में आता है तो शरीर में तेज दर्द होता है। जिस बाडी पार्ट के टच में आती है वो सुन्न हो जाता है। इसके अलावा ऐसे भी दावे किए जाते हैं जहां इस जेली फिश के टच में आने के बाद लोग बहरे भी हो जाते हैं। वैसे अगर आंकड़ों को देखें तो जेली फिश दो तरह की होती है। एक सामान्य तो दुसरी जह रीली।

ज्या दातर जेली फिश के संपर्क में आने से मामुली सी जलन होती है। तो जह रीली जेली फिश के संपर्क में आने से हालत काफी गंभीर हो जाती है। आक्सी जन तक की जरूरत मह सूस हो जाती है। अगर वक्त में अस्पताल ना पहुंचाया जाए तो गंभीर परि णाम भुगतने पड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here