गौ माता की एंटीबॉडी से बनेगी कोरोना वैक्सीन …वैश्विक महामारी बन चुके कोरोनावायरस से पूरी दुनिया त्रस्त है और इसके रोकथाम के लिए पूरी दुनिया के वैज्ञानिक वैक्सीन बनाने में जुटे हुए हैं ताकि इस जानलेवा वायरस का खात्मा हो और सारी दुनिया एक बार फिर सामान्य रूप से जीवन यापन करें लेकिन अभी तक विश्व के वैज्ञानिकों को कोरोनावायरस के खात्मे के लिए कोई सही वैक्सीन नहीं मिल पाया है वहीं सैब बायोथेराप्यूटिक्स के सीईओ एडी सुलिवन ने बताया कि गायों के पास अन्य छोटे जीवों की तुलना में ज्यादा खून होता है.

इसलिए उनके शरीर में एंटीबॉडीज भी बहुत ज्यादा बनते हैं. जिन्हें बाद में सुधार कर इंसानों में उपयोग किया जा सकता है. सुलिवन ने कहा कि 7 हफ्ते के अंदर गाय के शरीर में कोरोना वायरस के खिलाफ एंटीबॉडी तैयार हो रही हैं. इस दौरान गाय बहुत ज्यादा बीमार भी नहीं हो रही है. जांच करने पर पता चला कि गाय के शरीर में बन रहे एंटीबॉडी ने कोरोना वायरस के स्पाइक प्रोटीन को खत्म कर दिया.

जॉन्स हॉपकिंस यूनिवर्सिटी में संक्रामक बीमारियों के फिजिशियन अमेश अदाल्जा ने कहा कि यह दावा बेहद सकारात्मक, भरोसा देने वाला और आशाजनक है. यह कोरोना वायरस से लड़ने में काफी लाभदायक साबित होगा. इसलिए जब मिडिल ईस्ट रेस्पोरेटरी सिंड्रोम (MERS) आया था, तभी हमने यह रास्ता चुना था. वहीं से हमें पता चला कि गाय के एंटीबॉडी में बाकी जीवों के एंटीबॉडी की तुलना में ज्यादा ताकत होती है.

एडी ने बताया कि कुछ ही हफ्तों में गाय की एंटीबॉडी का इंसानी क्लीनिकल ट्रायल शुरू करेंगे. ताकि यह पता कर सकें कि यह इंसानों में कितना कारगर है. हमें उम्मीद है कि गाय के खून से निकाली गई एंटीबॉडी बाकी अन्य दवाओं और इलाज से बेहतर होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here