आज हम आपको बताने वाले हैं कि वास्तु में घड़ी लगाने की भी शुभ और अशुभ दिशा होती है और यह हमारे जीवन पर अच्छा और बुरा प्रभाव भी डालते हैं. दोस्तों ये जानने के लिए पूरा आर्टिकल जरुर पढें. दोस्तों हमेशा सभी के घरों में दीवार पर घड़ी जरुर टंगी होती है. दिवार पर यह घड़ी हम उस जगह पर लगाते हैं जहाँ आसानी से हम इसे देख सकें और समय का ध्यान रखें सके. ऐसा माना जाता है कि किसी को घड़ी तोफे में नहीं देनी चाहिए घड़ी की सुई हम सबको समय में बांधती है और यदि यही समय हम किसी को तोहफे में दे रहे हैं तो हम उसे अपने अच्छे समय के साथ पूरा समय भी दे रहे हैं यदि ये घर भी उसके लिए अच्छा समय लाए तो हमें खुशी मिलेंगे. घड़ी के संदर्भ में वास्तुशास्त्र और  विज्ञान बहुत कुछ कहता है. भारतीय वास्तुशास्त्र और चीनी वास्तुशास्त्र के अनुसार हमारे घर में टंगी हुई घड़ियां हमसे बहुत कुछ कहती है. जिन घड़ियां को हम घर या ऑफिस में इस्तेमाल करते हैं. उनका हमारे जीवन से एक का संबंध होता है घर या ऑफिस में उपयोग होने वाली घड़ियां जैसे कि वॉल क्लॉक, टेबल क्लॉक या फिर हैकिंग क्लॉक सभी को हमें किस तरह से उपयोग में लाते है. पर इस किस दीवार पर लगाए और कहा ना लगाएं इसके ख़ास निर्देश प्रदान किए गए दोस्तों अगर वास्तुशास्त्र की मानें तो घर की दक्षिण दीवार पर कभी भी घड़ी नहीं लगानी चाहिए क्योंकि वास्तु के अनुसार घर की दक्षिण दिशा यम की दिशा है और यह हमारे जीवन को खत्म करने का काम करते हैं इसके साथ ही दक्षिण दिशा ठहराव की दिशा चीनी विज्ञान का मानना है कि इस दिशा में घड़ी को लगाना से व्यक्ति के मार्ग में ठहराव आ जाता हैं. घर में मौजूद सदस्यों के करियर पर बुरा प्रभाव पड़ता है. शास्त्र के अनुसार घर की दक्षिण दिशा घर के बड़े मुखिया के लिए होती है. अगर आप इस दिशा के दीवार पर कुछ लगाना चाहते हैं तो अपने घर के मुख्य की तस्वीर लगा सकते हैं ऐसा करना शुभ माना जाता है और इससे घर के मुख्य का स्वास्थ्य भी अच्छा रहता है दोस्तों फेंगशुई में भी दक्षिण दीवार पर घड़ी अशुभ मानीं जाती ऐसी मान्यता है कि घर की यह दिशा नकारात्मक ऊर्जा को लाती है. अगर आप इस दिशा में घड़ी लगाते हैं तो ध्यान हमेशा दक्षिण दिश की ओर जाएगा. आप सभी जानते है दक्षिण दिश यम की दिशा है इसीलिए वास्तु शास्त्र में दक्षिण दिश घड़ी लगना अशुभ मना जाता हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here