10

भारतीय संस्कृति में पीपल का पेड़ को बहुत पूजा जाता है.उसकी पूजा की जाती है.वेदों में पीपल के पेड़ को लेकर कई बार जिक्र हुआ है.कहा जाता है कि पीपल के पेड़ में 3 भगवानों का निवास है.अगर कोई व्यक्ति इस पवित्र पेड़ को कटने पर पाप का उल्लेख है.कहा जाता है कि पीपल के जड़ों में भगवान विष्णु का निवास है.देवो के देव महादेव का निवास पीपल के तने में होता है.

पीपल के अग्रभाग में बरह्मा का निवास है.कहा जाता है पीपल के पेड़ से कई पुराणिक का बताया गया है.पीपल के पेड़ को पवित्र पेड़ माना जाता है.कभी भी इसे पूर्व दिशा में नहीं रखना चहिए नहीं तो घर ओर व्यापार मे धन का कमी हो जाती है

उस व्यक्ति के जीवन में समसायिक का असर पड़ता है.कभी कभार पीपल का पेड़ हमारे घर के अन्दर उग जाता है.आपको पीपल के पेड़ को उठाते समय कुछ खास बातो का ख्याल रखना.आप इस पीपल के पेड़ को सीधा तरीके से मत काटो क्योंकि इसमें देवता का निवास है.इससे आपको कई कठिनाई का सामना करना पड़ सकता है.

आपकी सबसे पहले इस पीपल के पेड़ की पूजा अर्चना करनी है.फिर उसके बाद उसको निकाल कर किसी गमले रख दीजिए.इस गमले को आप आस पास के किसी मंदिर में रख दीजिए.आप अगर अपने घर में पीपल के पर को रखते है तो अब आपके घर निर्जनता और गरीबी आ सकती है.क्योंकि कहा जाता है यह पेड़ अपने अकेले उपयोग के लिए नहीं है.

सामान्यत पीपल के पेड़ की जड़े बहुत गहरी और मोटी होती है.जिस घर में पीपल का पेड़ दीवार के आसपास पेड़ उग जाए इससे आपके घर की निव कमजोर हो सकती है.जिससे आपका मकान गिर सकता है.

पीपल के पेड़ को जब आप बाहर निकले जब बड़ी सावधानी से निकले.पुराणों में आया है की अगर किसी के घर पीपल का पोधा है तो उसकी वैवाहिक जीवन खतरे में आ सकता है.क्योंकि इससे पति पत्नी के बीच झगड़ा हो सकता है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here