7

भारत में कोरोना टीकाकरण अभियान तेजी से चल रहा है। बड़ी संख्या में लोग वैक्सीन लगवाने के लिए टीकाकरण केंद्र पर पहुंच रहे हैं। वहीं कुछ लोग भ्रामक खबरों की वजह से वैक्सीन लगवाने के लिए तैयार नहीं हैं। वहीं मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। जहां एक शख्स को गंभीर बीमारी से निजात मिल गया है। शख्स का कहना है कि उसे कई महीने पहले पैरालिसिस (Paralysis) हुआ था, जिसका इलाज उसने कई जगह कराया लेकिन उसे कोई फ़ायदा नहीं मिला।

मध्यप्रदेश के राजगढ़ जिले के सारंगपुर के रहने वाले अब्दुल माजिद (Abdul Majid) ने कोरोना वैक्सीन की डोज सुबह करीब साढ़े दस बजे लगाई थी, जिसके करीब 30 मिनट बाद ही उसकी लाइलाज बीमारी ठीक हो गई। माजिद ने बताया कि उसे 7 माह पहले पैरालिसिस हुआ, जिसका सबसे ज्यादा प्रभाव उसके मुंह पर पड़ा था और वो ठीक से बोल भी नहीं पा रहा था। कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद अपने उसके उन अंगों में हरकत शुरू हो गई, जो लकवाग्रस्त थे। जो अंग लंबे समय से सुन पड़े हुए थे, उन्होंने अचानक काम करना शुरू कर दिया।

माजिद का कहना है उसके लिए तो कोरोना वैक्सीन तो उसके लिए एक वरदान है। उन्होंने बताया कि अब तक कई डॉक्टरों को दिखाया और दवा की थी लेकिन उन्हें राहत नहीं मिली। डॉक्टरों ने भी उन्हें जवाब दे दिया था, जिसके बाद वो काफी परेशानी भी रहते थे लेकिन जब उन्होंने कोरोना वैक्सीन लगवाई तो चमत्कार हो गया और वो बिलकुल ठीक हो गए।

माजिद का कहना है कि उसे वैक्सीन लगवाने के बाद 75 प्रतिशत आराम मिल चुका है। पैरालिसिस की वजह से उन्हें कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था लेकिन अब वो ठीक हैं। राजगढ़ जिला चिकित्सालय के डॉ. सुधीर कलावत है कि माजिद को कोविशील्ड वैक्सीन लगाई गई थी। डॉक्टर का कहना है कि साइकोलॉजिकल या वैक्सीन का इफेक्ट भी ऐसा हो सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here