वहीं गार्जियन अखबार के मुताबिक, 45 वर्षीय एक महिला लॉन्ड्री चला रही थी, जहां पर अनेकों लोग आकर अपने कपड़े धुलवाया करते थे। अभी तक जितने भी 17 लोग कोरोना की चपेट में आए हैं, वे सभी गाहे-बगाहे इस महिला के संपर्क में आए थे। इतना ही नहीं, यह महिला खुद, इसके बच्चे और इसका पति भी कोरोना की चपेट में आए हैं। फिलहाल महिला की कोई ट्रैवल हिस्ट्री सामने नहीं आई है। संक्रमण के इसे मामले को मद्देनजर रखते हुए तत्काल एहतियातन बरतते हुए सभी कुछ लॉकडाउन लगा दिया गया है। शहर को हाई रिस्क पर रखा गया है। छात्रों से अपील की गई है कि वे ऑनलाइन ही अपनी पढ़ाई को जारी रखे।

नॉर्थ कोरिया भी बरत रहा एहतियातन 
आपको बता दें कि अभी चीन पिछले दिनों ही अपने सभी जिलो को कोरोना से लो रिस्क में रख रहा था। अब इस खबर के बाद महिला के ट्रैवल  हिस्ट्री की जांच की जा रही है, जो कि अभी तक सामने नहीं आई है। इस बात की पड़ताल की जा रही है कि क्या नॉर्थ कोरिया या फिर रूस का कोई शख्स भी महिला के संपर्क में आया था। अगर ऐसा होता है, तो यह किसी बड़े खतरे का संकेत हो सकता है। शुलान के अलावा चीन में भी 5 लोकल ट्रासंमिशन के केस मिले हैं। फिलवक्त तो शुलान को पूर्णत: लॉकडाउन कर दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here