12
चाइनीज़ फैशन इंडस्ट्री अक्सर सुर्खिओं में रहती है | इसे दुनिया की सबसे बड़ी फैशन इंडस्ट्री बताया जाता है | लेकिन इसके बावजूद फैशन इंडस्ट्री में मॉडल्स को लेकर लोग दो हिस्से में बंटे नजर आते है | साल 2015 में इसका उदाहरण देखने को मिला था, जब चाइनीज़ मॉडल्स को ऑटोमोबाइल शो से यह कहकर बाहर कर दिया था,  कि वे अश्लीलता फैलाती है |
बड़े बड़े ऑटो शोज में मॉडल्स का होना आम बात है | जहाँ तक है, ऐसे इवेंट्स में मॉडल्स का होना जरुरी माना जाता है | साल 2015 में चीन के शंघाई में एक ऐसा ही ऑटो शो हुआ था, जिसमे दुनिया के बड़े बड़े कार ब्रांड्स ने हिस्सा लिया था |
ऐसे में सभी को लगा था कि मॉडल्स भी इसका हिस्सा बनेगी | लेकिन शो के संचालको ने अपने को अलग दिखाने के लिए और अलग अप्रोच के लिए चलन का बायकाट कर दिया | उन्होंने अपने शो में किसी मॉडल को हिस्सा लेने नहीं दिया  | साथ ही कहा कि उनकी वजह से अश्लीलता फैलती है |
उस समय शो के संचालको ने कहा कि उन्होंने मॉडल्स को हटाया है, ताकि लोगो का ध्यान कारो पर रहे | साथ ही कहा कि इसलिए अब मॉडल्स की जगह कार एक्सपर्ट्स ऑटो शो का हिस्सा बनेंगे |
बाद में इस तरह बायकाट किये जाने और ऐसी टिप्पणी को लेकर मॉडल्स ने इसका विरोध किया | उन्होंने अपने हाथ में छड़ी ले ली और दूसरे हाथ में कटोरा | साथ ही कपड़ो पर चेहरे पर मिटटी लगा भिखारी जैसा रूप बना लिया | सभी मॉडल्स ने अपने हाथ में एक तख्ती भी पकड़ी थी | जिसमे लिखा था ‘मुझे पेट भरने के लिए भीख मांगनी पड़ेगी’,  ‘मुझे काम चाहिए’ |
इस विरोध प्रदर्शन की कई तस्वीरें वायरल हुयी | चीन के ही कई लोग इनके समर्थन में आए तो कई लोग इनके विरोध में | कुछ लोगो का मानना था कि शो के संचालको का फैसला सही है, जबकि कुछ लोग इसे कला का गला घोटना कह रहे थे |
ये विरोध प्रदर्शन दुनियाभर में हाई लाइट हुआ था | मीडिया में इस मामले को खूब उछाला गया था |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here