चंद्रमौली मिश्रा के लिए ये ऐसा वक्त था जब खुशी के मारे वो फूले नहीं समा रहे थे. क्योंकि पीएम मोदी ने उन्हें खुद फोन किया था. 91 साल के चंद्रमौली मिश्रा खुशी के मारे भावुक भी हो गए. इसके बाद पीएम मोदी ने उनका स्वास्थ्य और हालचाल पूछा. इसके साथ ही लॉकडाउन और कोरोना के रोकथाम के बारे में भी उन्होंने चंद्रमौली से बात की. इस दौरान करीब चार मिनट तक उन्होंने चंद्रमौली मिश्रा जी से फोन पर बातचीत की.

आपको बता दें कि पीएम मोदी से हुई वार्तालाप के बाद से ही चंद्रमौली मिश्रा काफी खुश नजर आए. इस बारे में उनका कहना है कि मैनें ऐसा भी नहीं सोचा था कि उनके जैसे बीजेपी के छोटे कार्यकर्ता को, जो तकरीबन चालीस साल तक पार्टी की सेवा करता रहा. उसे इस अवस्था में भी पीएम नरेंद्र मोदी फोन करेंगे. पीएम से हुई बात को लेकर वो काफी खुश थे और साथ ही उन्होंने इस दिन को अपनी जिंदगी का सबसे बेहतरीन दिन बताया. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि चंद्रमौली मिश्रा 1969 में जनसंघ के टिकट पर भभुआ विधान क्षेत्र से चुने गए थे. हालांकि ये पहली बार नहीं है जब पीएम मोदी ने किसी बुजुर्ग से बात की हो, इससे पहले भी वो कई आरएसएस से जुड़े पुराने नेताओं से फोन पर बात कर चुके हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here