6

सूत्रों के अनुसार इस मुठभेड़ के दौरान सुरक्षा बलों ने तीन आतंकी को मार गिराया है। अब भी इलाके में सुरक्षा बलों का ऑपरेशन लगातार जारी है। फिलहाल मारे गए आतंकियों की पहचान अभी तक नहीं हो पाई है। इससे पहले नागनाद चिम्मेर इलाके में आतंकियों के छिपे होने की जानकारी मिली थी, जिसके बाद पुलिस, सेना और सीआरपीएफ की संयुक्त टीम ने इलाके को घेर लिया और सर्च ऑपरेशन चलाया गया। इस बीच इलाके में छिपे आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी, जिसके बाद सुरक्षा बलों ने जवाबी कार्रवाई की और मुठभेड़ शुरू हो गई।

अब तक सुरक्षा बलों ने दो आतंकियों को ढेर कर दिया है। कहा जा रहा है कि अभी इलाके में और आतंकी छिपे हैं और मुठभेड़ जारी है। इससे पहले गुरुवार को जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में सेना ने लाइन ऑफ कंट्रोल के पास आतंकियों की घुसपैठ के प्रयास को नाकाम कर दिया था। इस समय सुरक्षा बलों ने तीन आतंकी को भी मार कर ढेर कर दिया था। असल में, गुरुवार सुबह सुरक्षा बलों को कुपवाड़ा के केरन सेक्टर में एलओसी के पार कुछ अज्ञात लोगों की संदिग्ध हरकत का पता चला था।

जिसके बाद सुरक्षाबलों ने घुसपैठ करने का प्रयास कर रहे आतंकियों को रोकने की कोशिश की थी। इसके बाद मुठभेड़ में एक आतंकी मार दिया गया था। उस मारे गए आतंकी के पास से एक एके 47 राइफल भी मिली थी। बता दें कि जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के सफाया के लिए सुरक्षा बल ऑपरेशन चला रहे हैं। इस वर्ष कश्मीर घाटी में 133 आतंकी मारे जा चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here