गृह मंत्रालय ने की तरफ से गाइडलाइन जारी करते हुए कहा गया कि इन ट्रेनों में सिर्फ वे लोग ही यात्रा कर पाएंगे जिनके पास कंफर्म ई-टिकट होगा। सिर्फ ई-टिकट होने पर ही यात्री को स्टेशन में एंट्री मिलेगी। जिसके पास ई-टिकट होगी उसी की टैक्सी को स्टेशन तक जाने की अनुमति दी जाएगी।

वहीं, प्लेटफॉर्म पर यात्री का हेल्थ चेकअप और स्क्रीनिंग होने के बाद ही ट्रेन मे सफर की अनुमति दी जाएगी। इस दौरान अगर किसी भी शख्स को फ्लू भी हुआ। तो उसे सफर करने की अनुमति नही दी जाएगी। ट्रेन में यात्रा करने के लिए तमाम यात्रियों को मास्क पहनने के साथ मुंह भी ढक कर रखना होगा और सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान यात्रियों को रखना होगा।

इसके आगे बताया गया कि यात्रियों को ट्रेन में सफर से लगभग 2 घंटे पहले स्टेशन पहुंचना होगा। इस दौरान यात्री की जांच की जाएगी। रेल मंत्रालय के अनुसार, स्वास्थ्य मंत्रालय से परामर्श के बाद ही ट्रेनों को किस स्टेशन से चलाना है, इसकी घोषणा होगी। रेल मंत्रालय इस बारे में अलग से गाइडलाइन जारी करेगा।

जिसका पालन सभी यात्रियों को करना होगा। बता दें कि रेलवे ने यात्रियों को जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना की वजह से देशभर में रेलवे टिकट के सभी बुकिंग काउंटर बंद रहेंगे। प्लेटफॉर्म टिकट भी किसी यात्री को नही दिया जाएगा। लेकिन यात्री 11 मई शम 4 बजे से ऑनलाइन बुकिंग कर सकते है।

रेलवे के मुताबिक, मंगलवार से 15 जोड़ी स्पेशल ट्रेनें चलाई जाएंगी. ये ट्रेनें नई दिल्ली से डिब्रूगढ़, अगरतला, हावड़ा, पटना, बिलासपुर, रांची, भुवनेश्वर, सिकंदराबाद, बेंगलुरु, चेन्नई, तिरुवनंतपुरम, मड़गांव, मुंबई सेंट्रल, अहमदाबाद और जम्मू तवी के लिए चलेंगी। रेलवे की ओर से कोशिश की गई है कि दिल्ली से अधिकतर राज्यों की राजधानी या मुख्य शहरों को जोड़ा जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here