6

डॉक्टर ने गंभीर हालत में अस्पताल लाये गये एक मरीज को पहले अपना खून डोनेट किया फिर उसका आपरेशन किया। जानकारी के मुताबिक मरीज की हालत काफी सीरियस थी, उसका तत्काल आपरेशन किया जाना आवश्यक था, लेकिन कोई डोनर न मिलने से दिक्कत आ रही था। साथ ही आपरेशन में देरी होने से  मरीज की जान भी जा सकती थी। ऐसे में डॉक्टर ने खुद अपना खून डोनेट करने का फैसला लिया।

डॉक्टर मोहम्मद फावाज दिल्ली एम्स के जनरल सर्जरी विभाग में कार्यरत हैं। बुधवार की शाम उनके पास एक मरीज आया जिसे तुरंत सर्जरी की आवश्यकता थी। इसके लिए खून की भी जरूरत थी, लेकिन कोरोना संक्रमण के डर के कारण कोई भी परिजन रक्त दान के लिए अस्पताल नहीं आया। मरीज के साथ उसकी पत्नी थी बस, लेकिन उसमें हीमोग्लोबिन की कमी थी इसलिए उनका खून नहीं लिया जा सकता था।

हालत अब बेहतर है 

डॉक्टर फावाज ने बताया कि मरीज की हालात बहुत ज्यादा खराब थी, उसको तुरंत रक्त की जरूरत थी। ऐसे में जब कोई डोनर नहीं मिला तो उन्होंने खुद मरीज को रक्तदान करने का निर्णय लिया। उन्होंने बताया कि इस समय मरीज की हालात ठीक है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here