खबरों के मुताबिक, इस ट्रस्ट को लेकर ईडी मौलाना साद और उनके बेटों से भी पूछताछ करेगी। इसके साथ ही ईडी ने उस शख्स को भी खोज निकाला है जो विदेशों में पैसे भेजता था जो अभी तक 90 लाख रुपए भेज चुका है। फिलहाल ईडी पता लगाने में जुटा है कि आखिर ट्रस्ट और तबलीगी जमात का आपस में क्या कनेक्शन है और वह पैसा किसके पास भेजता है।

बताया जाता है कि ट्रस्ट जिस बैंक में पैसे भेजता था वह दिल्ली के निजामुद्दी में स्थित बैंक ऑफ इंडिया है जहां ईडी ने नोटिस जारी कर दिया है और जल्द से जल्द सारी डिटेल मांगी है। सूत्रों से पता चला है कि अब तक की ईडी जांच में कई आम लोगों के नाम सामने आए हैं जिनमें होटल और इत्र व्यवसायी निजामी का नाम भी शामिल है।

ईडी के अधिकारी ने बताया कि इस मामले में अब तक जो पूछताछ हुई है उससे अनेक अहम जानकारियां निकलकर सामने आएंगी। साथ ही दिल्ली पुलिस ने जो दस्तावेज भेजे हैं उनका उर्दू से हिंदी में अनुवाद कराया जा रहा है और इस अनुवाद के बाद कई और अहम तथ्य सामने आ सकते हैं। इस मामले में अब होने वाली पूछताछ तथा बैंकों तथा अन्य जगहों से आने वाले दस्तावेज अहम सुबूत हो सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here