4

तालिबान ने अमेरिका को दिखाई आंख, 31 अगस्त तक देश छोड़ने की दी धमकी :-अफगानिस्तान पर कब्जा करने के बाद तालिबान ने अब अमेरिका को भी आंख दिखाना शुरू कर दिया है। काबुल से बड़ी संख्या लोग देश छोड़ने की कोशिशों में लगे हुए हैं। अमेरिका और अन्य नाटो देशों की करीब-करीब अफगानिस्तान छोड़ चुकी हैं लेकिन काबुल एयरपोर्ट पर बड़ी संख्या में दोनों देशों के सैनिक मौजूद हैं, जो रेस्क्यू ऑपरेशन चला रही हैं। तालिबान की तरफ से अब अमेरिका को धमकी दे दी गई है। सोमवार को तालिबान के प्रवक्ता सोहेल शाहीन ने कतर में कहा है कि ‘अमेरिका अपने सैनिकों की वापसी में अगर देरी करता है तो उसे इसका खामियाजा भी भुगतना पड़ेगा। तालिबान की ओर से अमेरिका को देश छोड़ने की डेडलाइन 31 अगस्त दी गई है।

तालिबान एक तरफ सभी देशों से बेहतर रिश्ते बनाने की बात कर रहा है। देश में सभी देशों को सुरक्षा देने की बात कर रहा है। उसका कहना है कि कोई भी देश अफगानिस्तान में अपना दूतावास बंद न करे लेकिन दूसरी तरफ वो अब अमेरिका को देश छोड़ने की धमकी दे रहा है और डेडलाइन 31 अगस्त दे चुका है। गौरतलब है कि अमेरिका ने पहले कहा था कि वो रेस्क्यू मिशन को 31 अगस्त तक चलाएगा और रेस्क्यू ऑपरेशन पूरा होने पर वो अपने सैनिकों को वापस बुला लेगा लेकिन अमेरिकी राष्ट्रपति ने पिछले दिनों दिए अपने बयान में साफ़ कहा यही कि अगर रेस्क्यू ऑपरेशन 31 अगस्त तक पूरा नहीं होता है तो अफगानिस्तान में उसके सैनिक और ज्यादा दिनों तक रुक सकते हैं।

राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा था कि विस्तार को लेकर हमारे और सेना के बीच चर्चा चल रही है। हमें आशा है कि विस्तार हमे करना नहीं पड़ेगा। बाइडेन ने जुलाई में आदेश दिया था कि इस माह के अंत तक वो अफगानिस्तान में अपने मिशन को समाप्त कर दे। अफगानिस्तान से अब तक अमेरिका और सहयोगी देशों के विमानों से लगभग 28 हजार लोगों को निकाला जा चुका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here