6

खबरों के इस संसार में हर रोज बेशुमार खबरें आती हैं। मगर कुछ खबरें ऐसी होती है, जो सीधा हमारी संवेदनाओं को अघात पहुंचाती है। आज एक ऐसी ही खबर कानपुर शहर से सामने आई है, जहां पर एक पति इस कदर हैवानियत की हदें पार कर बैठा कि उसने चंद पैसे कमाने के लिए अपनी पत्नी को ही जिस्मफरोशी के व्यापार में धकेलने लगा। वो खुद अपनी पत्नी को ग्राहकों के पास भेजता था। इसके बाद उसने इसको पूरा सेक्स रैकेट का रूप दे दिया। इसके वो झारखंड, ओडिशा और पश्चिम बंगाल से लड़कियां मंगाने लगा और इन लड़कियों को जिम्सफरोशी के धंधे में  शामिल करने के लिए बाध्य करने लगा।

पुलिस ने किया भंडाफोड़ 
अब कानपुर पुलिस ने इस सख्स के सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ कर दिया है। पुलिस ने खुद ग्राहक बनकर इस सेक्स रैकेट संचालक को फोन किया। इसके बाद फौरन इसका फोन ट्रेस करते हुए इसकी लोकेशन का पता लगाया गया। इसके बाद सेक्स रैकेट संचालक ने उस पुलिसकर्मी को कई लड़कियों की फोटो पंसद करने हेतु भेजी, मगर उसका लोकेशन ट्रेस करते ही पुलिस ने उसे पकड़ लिया। इस सेक्स रैकेट के धंधे में लिप्त इसका संचालक, इसकी पत्नी फरजाना और इसकी सास को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस के मुताबिक पिछले तीन सालों से यह सेक्स रैकेट चल रहा था। आरोपी मूल रूप से पश्चिम बंगाल का रहने वाला है।

अपनी पत्नी को भी भेजता था 
पुलिस की छानबीन में भी पता चला है कि यह शख्स अपनी पत्नी को भी ग्राहकों के पास भेजता था। इसने एक वाट्सएप ग्रुप बनाकर रखा हुआ था, जिसमें इसके सभी पुराने ग्राहक एड थे। अपने नए ग्राहकों से यह वाट्सएप कॉलिंग के जरिए बात किया करता था। पुराने ग्राहकों को लड़कियों की तस्वीर भेजता था और पंंसद आ जाने पर इन लड़कियों को अपने ग्राहकों के पास भेजता था। इसका यह सेक्स रैकेट का धंधा पिछले 3 सालों से चल रहा था, जिसका अब पुलिस ने भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने अब आरोपी को गिफ्तार कर लिया है। अनैतिक देह व्यापार अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर आरोपियों को जेल भेजा दिया गया है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here