6

कोरोना की दूसरी लहर ने देश में जो हालात पैदा कर दिए हैं। उसके बारे में तो किसी ने कभी सोचा ही नहीं था। आज लोग अपनों के शवों की कंधा देने से पीछे हट रहे हैं। पड़ोसी दरवाजे बंद कर लेते हैं तो वहीं रिश्तेदार आगे नहीं आ रहे हैं। ऐसा ही मामला उत्तर प्रदेश के के जौनपुर से सामने आया। जहां कोरोना मृतक महिला के शव को कंधा देने के लिए जब गांव वालों का साथ नहीं मिला तो लाचार पति साइकिल पर ही शव लेकर नदी किनारे अंतिम संस्कार के लिए निकल पड़ा। पति कुछ दूर चला ही था कि वो अपनी पत्नी के शव को संभल नहीं पाया और शव लेकर गिर गया।

इस घटना की तस्वीरें फिलहाल सोशल मीडिया पर बुधवार सुबह से ही वायरल हो रही है। घटना की सूचना जैसे ही स्थानीय पुलिस को हुई तुरंत मौके पर पुलिस पहुंची और शव को कंधा दिया। शव के अंतिम संस्कार के लिए घाट तक पहुंचाने के लिए वाहन भी मुहैया कराया। ये पूरा मामला जौनपुर के मड़ियाहूं कोतवाली क्षेत्र के अम्बरपुर गांव का है।

गांव के रहने वाले तिलकधारी सिंह की पत्नी राजकुमारी (56) की जिला अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई थी, जिसके बाद तिलकधारी शव लेकर गांव पहुंचे लेकिन जब शव को अंतिम संस्कार के लिए घाट ले जाने की तैयारी शुरू की तो कोई भी पड़ोसी मदद के लिए आगे नहीं आया। तिलकधारी को जब कोई मदद नहीं मिली और कोई सहारा नहीं मिला तो वो खुद अपनी साइकिल पर ही शव को रखकर अकेले ही अंतिम संस्कार के लिए चल दिए।

किसी तरह तो गांव में नदी के किनारे तिलकधारी सिंह पहुंच तो गए लेकिन गांव वालों ने शव का अंतिम संस्कार नहीं करने दिया। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और उन्होंने शव के लिए टिकठी बनाकर उसे कंधा दिया, जिसके बाद शव को रामघाट तक भेजवाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here