11

कहते हैं न अंत भला तो सब भला, बचपन बहुत मासूम होता होता है. जब बच्चे छोटे होते हैं तो उन्हें इस बात पूरी समझ होती है कौन उन्हें प्यार और लाड कर रहा है वहीं उन्हें ये भी पता होता है कौन उन्हें डांट रहा है. ऐसे ही आज हम आपको एक ऐसे बच्चे के बारे बताएंगे जो 14 साल पहले घर छोड़कर चला गया था. हालांकि वह अब लौट आया है.

जानकारी के मुताबिक यह घटना उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले के रहने वाले रिंकू उर्फ गुरप्रीत सिंह की जो 14 साल बाद अपने गरीब माता-पिता के लिए एक सौभाग्य की लहर लेकर वापस आया है.

पिता के डांटने पर घर से भागे थे रिंकू

यूपी के हरदोई जिले के सांडी थाने के अंतर्गत आने वाले गांव सौतीयापुर के रिंकू उर्फ गुरप्रीत सिंह बचपन में अपने पिता की डांट सुनकर गुस्से से घर छोड़कर चला गया था. परंतु 14 साल बीत जाने के बाद 26 साल का रिंकू अचानक अपने घर वापस आ चुके हैं. इतने साल बाद रिंकू के माता-पिता उन्हें देख कर चौंक गए. जानकारी के मुताबिक साल 2007 की बात है, जब रिंकू के पिता ने किसी बात को लेकर रिंकू को डांट लगाई थी. अपने पिता की डांट खाने के बाद उसने चुपके से घर छोड़कर जाने का फैसला कर लिया.

14 साल से कड़ी मेहनत करने के बाद खरीदी ट्रक

रिंकू पुराने कपड़े पहन कर और नए कपड़े अपने साथ लेकर चुपके से हरदोई से लुधियाना की ट्रेन में बैठ गया और वह लुधियाना चला गया. लुधियाना में सहयोग से रिंकू की मुलाकात एक सरदार से हुई. रिंकू बहुत छोटा था, इसलिए सरदार जी ने उसे अपने यहां शरण दी और एक ट्रांसपोर्ट कंपनी में काम दिलवा दिया.

अनेक वर्षों तक ट्रांसपोर्ट कंपनी में काम करने के बाद रिंकू ने खुद का एक ट्रक खरीद लिया. इतना ही नहीं रिंकू धन संपत्ति से इतना सक्षम हो गया कि उसने एक लग्जरी कार भी खरीद ली.

काफी सालों लग्जरी कार से गांव आया रिंकू

आपको बता रिंकू के घर लौटने की खानी भी काफी दिलचस्प है. दरअसल रिंकू के एक ट्रक का यूपी के धनबाद में एक्सीडेंट हो गया था. रिंकू उसी सिलसिले में लुधियाना से धनबाद की ओर अपनी लग्जरी कार में बैठकर जा रहा था. तभी बीच में हरदोई से गुजरते समय रिंकू को अपने परिवार की याद आई परंतु उसे अपने पिता का नाम भूल चुका था, लेकिन उसे अपने गांव के एक व्यक्ति सूरत यादव का नाम पता था. रिंकू ने हरदोई पहुंचकर सूरत यादव नाम के उस शख्स से मुलाकात की. सूरत यादव ने रिंकू को देखते ही पहचान लिया और उसे उसके माता-पिता के पास लेकर गए.

रिंकू को देखते ही उसके माता-पिता को अपनी आंखों पर विश्वास करना मुश्किल हो गया. क्योंकि रिंकू के माता-पिता ने समझा था कि इतने साल हो गए तो रिंकू के साथ जरूर कोई अनहोनी हो गई होगी. लेकिन रिंकू को वापस पाकर परिवार वाले ख़ुशी नहीं शमा रहे हैं.

आपको बता दें रिंकू ने लुधियाना ने एक युवती से प्रेम विवाह भी रचा लिया था.पुनर्विवाह और अब रिंकू का कहना है कि वह अब उसके घर हरदोई में ही रहेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here