कांग्रेस शासित प्रदेश मध्यप्रदेश के नवनियुक्त मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अपने शपथग्रहण के तुरंत बाद किसानों के दो लाख रुपए तक के कर्ज माफी के ऐलान के साथ ही राजनीति तेज हो गई है। बता दें कि इस कर्जमाफी पर पक्ष और विपक्ष में सियासी वाकयुद्ध शुरू हो गया है।

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मध्यप्रदेश की कमान संभालते ही सबसे पहले लोन लिए किसानों को बड़ी सौगात दी। उन्होंने पदभार संभालते ही सबसे पहले सीएम ऑफिस पहुंचे और सबसे पहले उन किसानों की लोन वाली फाइल पर पेन चलाया जिसका वादा उन्होंने चुनावी वचन पत्र में किया था। और उन्होंने किसानों को किया वादा निभाया। कमलनाथ ने दो लाख रुपये तक के किसानों के लोन को माफ कर दिया है।

इसके बाद मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए सीएम कमलनाथ पर हमला कर दिया। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने राज्य की स्थिति बेहतर बताई है और कहा है कि किसानों की कर्जमाफी नहीं चाहिए बल्कि उन्हें अपने पसीने का पूरा पैसा चाहिए। बता दें कि कमलनाथ ने मुख्यमंत्री पद की शपथग्रहण करने से पहले मध्यप्रदेश सरकार की खजाने में पैसे की कमी बताई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here