13

बिहार राज्य इस समय कोरोना के संक्रमण में जकड़ता जा रहा है। ऐसे में बिहार सरकार ने 16 से 31 जुलाई तक राज्य में पूर्ण लॉकडाउन लगाने का फैसला लिया है। बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ट्वीट के माध्यम से यह जानकारी दी है। उन्होंने जानकारी दी है कि नगर निकाय, जिला मुख्यालय, अनुमंडल और प्रखंड मुख्यालय में 15 दिनों के लिए लॉकडाउन लागू रहेगा। उन्होंने यह भी बताया कि 16 से 31 जुलाई तक के लॉकडाउन के लिए गाइडलाइन जल्द जारी कर दी जाएगी।

सुशील कुमार मोदी ने कहा कि कोरोना महामारी का न कोई दवा है न ही अभी तक कोई टीका खोजा जा सका है। सोशल डि​स्टेंसिंग ही इसके बचाव का सही तरीका है। हम सभी अनिवार्य रूप से अपने चेहरे पर मास्क, तौलिया या रुमाल लगाना चाहिए। वैश्विक महामारी कोरोना का फैलाव काफी बढ़ता जा रहा है। लोगों की लापरवाही का आलम यह है कि सरकार के लाख कोशिशों के बावजूद कोई जारी दिशा—निर्देश मानने को तैयार नहीं है। बता दें कि कल भाजपा के 75 लोगों का सैंपल लिया गया था, जिसमें से 25 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इनमें कई बड़े नेता भी शामिल है। प्रदेश संगठन के महामंत्री नागेंद्र नाथ, भाजपा के प्रदेश महामंत्री देवेश कुमार, राधा मोहन शर्मा और राजेश वर्मा जैसे बड़े नेता कोरोना संक्रमित मिले हैं।

ज्ञात हो कि इससे पहले की भी भाजपा के कई विधायक और बिहार विधान परिषद के सभापति कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे। वहीं आरजेडी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह भी संक्रमित मिले थे, जिनका इलाज चल रहा है। ऐसे में मुख्यमंत्री आवास तक कोरोना की दहशत दिखाई दे रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here