उत्तर प्रदेश के अलीगढ से बेहद ही अनोखा मामला देखने को मिल रहा है | यहाँ एक 24 साल का युवक तपती धुप में मौन तप पर बैठा हुआ है | इतना ही नहीं उसने अपना मुँह भी सुई धागे से सील रखा है और 5 दिनों भोजन भी नहीं किया है  |
अलीगढ की गभाना क्षेत्र के गाँव सोमना का ये मामला है | जानकारी के अनुसार तपस्या कर रहे शख्स का नाम वीरपाल है | वह पिछले 5 दिनों से वेदपाल सिंह के खेत में तप पर बैठा है | पत्रकारों ने जब वीरपाल से जानकारी लेनी चाही, तो उसने केवल आसमान की तरफ इशारा कर दिया | लेकिन कुछ भी नहीं बोला |
जानकारी के अनुसार वीरपाल के आस-पास आग का घेरा बना है | जिनमे उपले आग उगल रहे है और पास जमीन में चीमटा और त्रिशूल गड़े हुए है | पास में एक पानी का कैन भी रखा है और शरीर पर पुजारियों का वस्त्र ढंका हुआ है |
मौके पर मौजूद के शख्स ने बताया कि वीरपाल उसी गाँव का रहने वाला है | उसके पिता की मृत्यु हो चुकी है, और घर में माता और दो भाई रहते है | वीरपाल ने 4 साल पहले अपने परिवार से नाता तोड़ दिया था | और तभी से सन्यासी बन गया है |
गांववालों के अनुसार तप पर बैठने से पहले वीरपाल ने सिर्फ इतना कहा था | कि उसके सपने में भगवान आये थे और उन्होंने ही ऐसा करने को कहा था | इतना कहने एक बाद वह तपस्या पर बैठ गया | वैसे परिवारजन और गांववाले उसे शाम के चाय पानी पहुंचा देते है, लेकिन पिछले 5 दिनों से उसने अन्न ग्रहण नहीं किया है | इस वजह से उसका शरीर भी कमजोर होने लगा है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here