10

यूपी के गाजियाबाद जिले में एक पिता का निर्दयी चेहरा सामने आया है। यहां पैसे के लालच में एक पति ने अपनी पत्नी और चार साल के बेटे की हत्या की सुपारी दे दी। वहीं हत्या को अंजाम देने के लिए पेशेवर हत्यारा जब उनके घर पहुंचा तो वहां खेल रहे चार साल के मासूम बेटे को देख उसका दिल पसीज गया। उसने महिला और उसके बेटे की हत्या करने की बजाय उसके पति की हकीकत उसे बता दी। इसके बाद महिला ने पति के खिलाफ स्थानीय थाने के मामला दर्ज करा दिया है, जिसके बाद पुलिस ने उसे और उसके दोस्त रामप्रकाश निवासी विजयनगर बागू को भी गिरफ्तार कर लिया है।

घटना के बारे में मिली जानकारी के मुताबिक उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में महिंद्रा एन्क्लेव में अजय कुमार यादव अपनी पत्नी राखी और चार साल के बेटे के साथ रहता है। अजय और राखी ने करीब साढ़े चार साल पहले प्रेम विवाह किया था।अजय यूपी के आजमगढ़ स्थित गांव नंदाव का रहने वाला है, जबकि राखी बिहार की रहने वाली है। अजय यादव दवा कंपनी में एमआर हैं और उसकी पत्नी राखी के नाम लाखों का बीमा है,जिसके क्लेम के लिए वह अपनी पत्नी और बच्चे की हत्या करवाना चाहता है। इसके लिए उसने पेशेवर किलर गजराज को सुपारी दी थी। गजराज और अजय की मुलाकात अजय के दोस्त रामप्रकाश ने करवाई थी।

चार साल पहले किया था प्रेम विवाह

पुलिस ने बताया कि आरोपी अजय एक तीर से दो निशाना साधने के चक्कर में था। बीमा क्लेम लेने के अलावा वह इसलिए भी पत्नी और बेटे को रास्ते से हटाना चाहता था क्योंकिं वह किसी और महिला के संपर्क में था। राखी ने बताया की उसने करीब चार साल पहले अजय से लव मैरिज की थी। शादी के बाद सबकुछ ठीकठाक चल रहा था लेकिन बीते एक साल से दोनों में विवाद शुरू हो गया।  उसने बताया की 25 फरवरी को गजराज नाम का एक शख्स उसके घर आया।

वीडियो दिखाने पर पत्नी को हुआ भरोसा

पूछने पर गजराज ने बताया की उसके पति अजय ने उसे और उसके बेटे को मारने की सुपारी दी है लेकिन उसके मासूम बेटे को देखकर उसे दया आ गई है। गजराज की इस बात पर राखी को भरोसा नहीं हुआ तो गजराज ने उसे एक वीडियो दिखाया जिसमें अजय गजराज से कह रहा है कि पत्नी-बेटे को गोली मत मारना। उन्हें एक्सीडेंट में मारना, ताकि बीमा क्लेम मिल सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here