4

दिल्ली में एक अजीबो गरीब वाक्या पेश आया जहां एक लड़की ने अपनी पसंद से शादी कर ली। जिसके बाद उसके पिता ने पुलिस मे शिकायत दर्ज करा दी है। उन्होंने बताया कि उनकी बेटी लापता हैं तथा नाबा लिग है। जिसके बाद पुलिस लड़की को तला शने में लगी। लम्बी तलाश के बाद वो लड़की मिली जिसके बाद दुसरी ही कहानी सामने आई। हालां कि लडकी को बाल गृह भेज दिया गया। जिसके बाद उस लड़की,का पति कोर्ट का दरवाजा खटख टाया है और अपनी पत्नी की रिहाई की मांग की है। जिसकी सुनवाई दिल्ली हाई कोर्ट में हुआ। पति ने सारे डाक्युमेटं जारी किया तथा बताया कि लड़की बालिग है। और उसने मर्जी से शादी की है और तुरंत बाल गृ’ह से आजाद करने की मांग की है। जस्टिस अनुर जयराम भंभानी और मनोज कुमार ओहरी कुछ पीठ ने फैसला सुनाते हुए कहा कि अगर महिला चाहती है कि वो पति,

के साथ भेजा जाए तो उसे तो फौरन उसे रिहा किया जाए। लड़के ने कोर्ट में सारी डाक्युमेटं पेश किया जिसके हिसाब से लड़की बालिग है तथा दोनों अपने  मर्जी से शादी की है। जिसके बाद कोर्ट ने आदेश दिया कि लड़की बालिग है तो कोई कारण नहीं बनता है कि उसे बाल में गृह रखा जाए।

उसे फौरन रिहा किया जाए। ऐसे में अब देखना यह है कि कोर्ट इस पर क्या फैसला लेती है। वहीँ दूसरी तरफ अभी लड़की की तरफ से कोई बयान नहीं आया है। उसका बयान आने के बाद सब कुछ साफ़ हो सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here