6

उम्मीद जताई जा रही थी कि यह वैक्सीन अपने अंतिम चरण में सफल साबित होगी। वैक्सीन को लेकर कंपनी की तरफ से कहा गया है कि ट्रायल के दौरान एक व्यक्ति की हालत बिगड़ गई थी। जिसके बाद हमने फ़िलहाल वैक्सीन के परीक्षण पर रोक लगाने का निर्णय लिया है। यह एक रूटीन रोक है।

कंपनी का कहना है कि वैक्सीन ट्रायल में शामिल व्यक्ति की बीमारी के विषय में अब तक उनके पास कुछ खास जानकारी नहीं है। रिपोर्ट्स आने के बाद उसकी समीक्षा होगी जिसके बाद परीक्षण को आगे बढ़ाया जाएगा। वैक्सीन बनाने वाली कंपनी एस्ट्राजेनेका के प्रवक्ता की तरफ से कहा गया है कि मानक समीक्षा प्रक्रिया ने सुरक्षा डाटा की समीक्षा करने की अनुमति देने के लिए वैक्सीन परीक्षण पर रोक लगा दी है। जिस व्यक्ति को परीक्षण दौर में वैक्सीन दी गई है उसे किस प्रकार की समस्या हुई है, उसे लेकर फ़िलहाल अब तक कोई जानकारी सामने नहीं आ पाई है।

वैक्सीन के परीक्षण पर रोक लगने के बाद एस्ट्राजेनेका वैक्सीन के अन्य परीक्षण भी प्रभावित हुए हैं। इसके आलावा दूसरी कंपनियां जो कोरोना वैक्सीन को लेकर परीक्षण कर रही हैं। उनके द्वारा भी हो रहे क्लिनिकल ट्रायल प्रभावित हुए हैं।कोरोना वैक्सीन को लेकर अमेरिका से कई देश उम्मीद लगाए बैठे थे कि उनकी वैक्सीन जल्द बाजार में आयेगी, जिसे लेकर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी कह चुके थे कि जल्द वैक्सीन पर अच्छी खबर आएगी लेकिन इस ट्रायल पर रोक के बाद लोगों में एक निराशा देखने को मिल रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here