4

मानसून आने के बाद हर जगह तबाही का मंजर देखने को मिल रहा है। भीषण बारिश से कई राज्यों का बुरा हाल है। ऐसा ही एक रूह कापने वाला मंजर हिमांचल प्रदेश से भी सामने आया है। हिमांचल प्रदेश के किन्नौर जिले (Kinnaur) में रविवार शाम लैंडस्लाइट की चपेट में आने की वजह से 8 लोगों की मौत हो गई, जबकि चार गंभीर रूप से घायल बताए जा रहे हैं। ये हादसा बटसेरी के गुंसा के पास चट्टानें गिरने की वजह से हुआ, जिसने छितकुल से सांगला की ओर आ रही टूरिस्ट की एक गाड़ी को अपनी चपेट में ले लिया। बताया जा रहा है कि टैंपो ट्रैवलर में बैठे सभी यात्री अलग-अलग जगहों से हिमाचल घूमने आए थे।

चट्टानों की चपेट में आकर बटसेरी पुल टूटा
घटना की सूचना मिलते ही पुलिसकर्मी घटना स्थल पर पहुंच गए हैं और रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है। घटना से घायल लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया जा रहा है। किन्नौर पुलिस के अधिकारियों ने बताया कि इस घटना में चट्टानों की चपेट में आने से बटसेरी पुल भी टूट गया है। यहीं नहीं इलाके के पास बने मकान भी इसकी चपेट में आकर क्षतिग्रस्त हुए हैं। इसके अलावा कुछ स्थानीय लोगों ने उनके सेब के बाग में भी नुकसान होने का जिक्र किया है।

गाड़ी में सवार थे 11 लोग, 8 की हुई मौत
पुलिस द्वारा दी गई जानकारी में बताया जा रहा है कि हादसे की चपेट में आए टैंपो ट्रैवलर नंबर (HR 55 AC 9003) छितकुल से सांगला की ओर रहा था। तभी अचानक लैंडस्लाइट हो गई और बड़ी-बड़ी चट्टानें गाड़ी पर आकर गिरने लगी। इस दौरान टैंपो में कुल 11 लोग सवार थे। जिसमें 8 की मौके पर ही मौत हो गई। 3 गंभीर रूप से घायल है। इसके अलावा सड़क पर चल रहा एक शख्स भी हादसे की चपेट में आकर घायल हो गया है। उसे भी गंभीर चोटें आई हैं। पुलिस होमगार्ड और आइटीबीपी के जवान मिलकर रेस्क्यू ऑपरेशन चला रहे हैं और सांगला पुलिस की क्यूआरटी की टीम मलवे में दबे शवों को निकालने में जुटी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here