6

ज्योतिष विज्ञान में व्यक्ति की राशि के बारे में जानकर ही उसके विषय में काफी कुछ जाना जा सकता है। राशि का प्रभाव भी व्यक्ति के जीवन में काफी पड़ता है। उसके भाग्य के बारे में राशि से ही पता चल जाता है। वहीं बच्चे जिस नक्षत्र में जन्म लेते हैं उसका प्रभाव भी उन पर पड़ता है। ज्योतिष विज्ञान में बताया गया है उस विशेष नक्षत्र के विषय में, जिसमे जन्में बच्चे काफी भाग्यशाली होते है।

  • ज्योतिष विज्ञान में 27 नक्षत्र बताए गए हैं, जिसमे से 17वां नक्षत्र अनुराधा है। इसके स्वामी शनि ग्रह है, जिसकी वजह से इस नक्षत्र में जन्मे जातकों पर शनि महाराज की कृपा होती है। ये नक्षत्र सबसे शुभ कहा जाता है। इस नक्षत्र में जन्मे बच्चे काफी भाग्यशाली होते हैं।
  • अनुराधा नक्षत्र में जन्म लेने वाले बच्चों पर मंगल का भी प्रभाव होता है, जिस वजह से वो काफी साहसी, ऊर्जावान और पराक्रमी होते हैं। यह खुलकर अपनी बात रखते हैं और किसी भी काम को काफी मन लगाकर करते हैं। ये अपनी बातों को सीधे और साफ़ बोलते हैं और बातों को घुमाते नहीं हैं।
  • अनुराधा नक्षत्र में जन्म लेने वाले बच्चों की दोस्ती ज्यादा होती है लेकिन उनके दोस्त अच्छे होते हैं। दोस्ती में जातक कुछ भी कर सकते हैं। इस नक्षत्र में जन्मे जातक काफी धार्मिक होते हैं, जिस वजह से वो जीवन में आने वाली किसी भी परेशानी से डरते नहीं है, न ही कभी निराश होते हैं। जातक कभी मेहनती होते यहीं और कम उम्र से ही कामना शुरू कर देते हैं।
  • इस नक्षत्र में जन्मे बच्चे मौके को पहचान जाते हैं और उसका लाभ उठाना जानते हैं। अनुशासन में रहकर ही ये काम कर करते हैं, जिसकी वजह से इन्हे काम में सफलता भी मिली है। पिता से जरूर इनका मनमुटाव रहता है। विदेश यात्रा करने के योग हमेशा बने रहते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here